भारतीय टीम (Team India) के पूर्व ऑलराउंडर युवराज सिंह (Yuvraj Singh) संन्‍यास से वापसी का ऐलान कर चुके हैं. वो पंजाब क्रिकेट की एक मेंटर के रूप में सेवा करना चाहते हैं. हालांकि उनकी वापसी अधर में लटक सकती है. क्‍योंकि बीसीसीआई ने इस संबंध में युवी द्वारा भेजे गए पत्र का जवाब नहीं दिया है. पंजाब क्रिकेट संघ (PCA) के सचिव पुनीत बाली ने इस बात की पुष्टि की.

युवराज ने पिछले साल क्रिकेट को अलविदा कह दिया था, लेकिन उन्होंने संन्यास से वापसी के लिए बीसीसीआई को पत्र लिखा था. बाली ने ही उनसे वापसी की अपील की थी जिस पर युवराज ने गौर करते हुए हामी भर दी थी.

युवराज ने मंजूरी लेने के लिए बीसीसीआई को पत्र लिखा, लेकिन अभी तक उन्हें कोई जवाब नहीं मिला है.  बाली ने शुक्रवार को न्‍यूज एजेंसी आईएएनएस से कहा, “अभी तक मंजूरी नहीं मिली है. पीसीए ने उनकी वापसी को कबूल कर लिया है, लेकिन हमें बीसीसीआई के जवाब का इंतजार है.”

बाली ने युवराज से पंजाब के युवाओं को मेंटर करने के लिए वापसी की अपील की थी. अगर उन्हें मंजूरी मिल जाती है तो वह पंजाब के लिए संभवत: सिर्फ टी-20 खेल सकते हैं. वह कुछ समय से मोहाली के पीसीए स्टेडियम में युवाओं के साथ अभ्यास भी कर रहे हैं.