Yuvraj Singh feels Team India didn’t groom someone properly for number-4
युवराज सिंह © AFP

आईसीसी विश्व कप 2019 के सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड के खिलाफ मिली हार के बाद टीम इंडिया की चयन प्रक्रिया पर सवाल उठाए जा रहे हैं। हाल ही में संन्यास लेने वाले भारतीय मध्य क्रम बल्लेबाज युवराज सिंह का कहना है की भारतीय टीम मैनेजमेंट ने नंबर चार पर किसी बल्लेबाज को अच्छी तरह से तैयार नहीं किया।

टाइम्स ऑफ इंडिया से बातचीत में युवराज ने कहा, “टीम मैनेजमेंट को किसी को तैयार करना चाहिए था। अगर कोई नंबर चार पर असफल हो रहा था तो टीम मैनेजमेंट को उस खिलाड़ी को बताना चाहिए था कि वो विश्व कप खेलेगा। जैसा कि 2003 विश्व कप में हुआ था। टूर्नामेंट से पहले हम न्यूजीलैंड के खिलाफ खेल रहे थे और हर कोई फ्लॉप रहा था। लेकिन विश्व कप में वही टीम खेली थी।”

युवराज के इस बयान का इशारा टीम मैनेजमेंट के नंबर चार पर लगातार नए खिलाड़ियों को मौका देने और किसी एक को लंबे समय तक इस स्थान पर सेट होने का मौका ना देने की ओर था।

ICC विश्व कप: इंग्लैंड-न्यूजीलैंड, फाइनल मैच की लाइव स्ट्रीमिंग

विश्व कप से पहले कप्तान विराट कोहली ने खुद ये बयान दिया था कि अंबाती रायडू टीम इंडिया के नंबर चार बल्लेबाज हैं लेकिन उन्हें विश्व कप स्क्वाड में मौका नहीं दिया गया। वहीं शिखर धवन और फिर विजय शंकर के चोटिल होने के बाद भी रायडू को स्क्वाड में शामिल नहीं किया गया। जिसके तुरंत बाद रायडू ने संन्यास का ऐलान कर दिया। इस बारे में युवराज ने कहा, “मुझे रायडू के इस तरह संन्यास लेने से काफी बुरा लग रहा है। जिस तरह से उन्होंने (बीसीसीआई) स्थिति को संभाला वो निराशाजनक था। आप विश्व कप खेलने की तैयारी कर रहे हो और अचानक आपको टीम में जगह ही नहीं मिलती है।”

पूर्व क्रिकेटर ने आगे कहा, “रायडू के साथ जो हुआ वो देखकर निराशा हुई, वो विश्व कप में चयन का दावेदार था। उसने न्यूजीलैंड में रन बनाए लेकिन तीन-चार खराब पारियों के बाद उसे ड्रॉप कर दिया गया। फिर रिषभ पंत आया और उसे भी ड्रॉप कर दिया गया। अगर नंबर चार वनडे क्रिकेट में अहम स्थान है, अगर आप किसी को उस नंबर पर अच्छा करते देखना चाहते हैं तो आपको उसका समर्थन करना होगा। आप किसी को ड्रॉप नहीं कर सकते क्योंकि वो उस समय पर अच्छा नहीं कर रहा है।”

विश्‍व कप (प्रीव्‍यू) : इंग्‍लैंड-न्‍यूजीलैंड में फाइनल शो, मिलेगा नया विश्‍व चैंपियन

2011 विश्व कप के नायक ने कहा, “इस बीच उन्होंने दिनेश कार्तिक को भी नंबर चार पर मौका दिया। फिर, ना जाने उनकी क्या योजना था, उन्होंने रिषभ को फिर मौका दिया, उसने अच्छा किया। अगर रोहित और विराट जल्दी आउट हो जाते, हम मुश्किल में आ जाते और सभी को ये पता था। हमें एक मजबूत नंबर चार की जरूरत थी। मुझे इसके पीछे की उनकी योजना समझ नहीं आई।”