भारत को विश्‍व कप 2011 (ICC World Cup 2011) जिताने में अहम भूमिका निभाने वाले युवराज सिंह (Yuvraj Singh) का मानना है कि पूर्व कप्‍तान महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) ने बुरे वक्‍त में भी सुरेश रैना (Suresh Raina) का काफी समर्थन किया था.

इंडिया टुडे से बातचीत के दौरान युवराज सिंह (Yuvraj Singh) ने कहा, “सुरेश रैना (Suresh Raina) के पास बड़ा सपोर्ट था क्‍योंकि महेंद्र सिंह धोनी उनका बचाव करते थे. हर कप्‍तान का कोई न कोई फेवरेट खिलाड़ी होता है. मुझे लगता है कि माही ने अपने समय में रैना का काफी समर्थन किया था.”

युवराज सिंह (Yuvraj Singh) ने आगे कहा, “उस समय यूसुफ पठान काफी अच्‍छा खेल रहा था. यहां तक की मैं भी अच्‍छा खेल रहा था. साथ ही मैं विकेट भी ले रहा था. उस वक्‍त रैना अच्‍छी फॉर्म में नहीं था. टीम के पास बाएं हाथ का स्पिनर भी नहीं था . काफी विकेट निकालने के कारण टीम के पास ज्‍यादा विकल्‍प भी नहीं थे.”

युवराज सिंह (Yuvraj Singh) ने पूर्व कप्‍तान सौरव गांगुली से उन्‍हें मिले समर्थन का भी जिक्र किया. सौरव गांगुली के कार्यकाल में ही युवराज ने डेब्‍यू किया था. युवराज सिंह ने गांगुली, धोनी के अलावा राहुल द्रविड़ और विराट कोहली की कप्‍तानी में क्रिकेट खेला है. उन्‍होंने गांगुली को अपना फेवरेट कप्‍तान बताया.

“अन्‍य सभी कप्‍तानों की तुलना में सौरव गांगुली ने मेरा सबसे ज्‍यादा समर्थन किया. दादा ने मेरी प्रतिभा को उभारने में मदद की. दादा कहा करते थे कि उनके पास 4-5 खिलाड़ी हैं. जो उन्‍हें टीम को मजबूत करने में मदद करते हैं.”