Yuvraj Singh’s brother’s wife drops domestic violences charges against family
Yuvraj Singh (File Photo) @ AFP

युवराज सिंह के परिवार ने बुधवार को कहा कि उनके भाई जोरावर के खिलाफ घरेलू हिंसा के मामले में इस क्रिकेटर का नाम ‘दुर्भावनापूर्ण’ कारणों से घसीटा गया लेकिन आरोपी के माफी मांगने के बाद हाल में यह मामला निपट गया।

परिवार ने कहा कि युवराज अब राहत की सांस ले सकता है। जोरावर से अलग रह रही उनकी पत्नी आकांक्षा शर्मा ने युवराज के खिलाफ घरेलू हिंसा का मामला दर्ज कराया था।

पढ़ें:- रिषभ पंत: मैं अपने प्रदर्शन में सुधार करके भारत की जीत का सूत्रधार बनना चाहता हूं

चार महीने की कानूनी लड़ाई के बाद आकांक्षा और जोरावर के बीच इस महीने तलाक हो गया। आकांक्षा ने युवराज और उनके परिवार के खिलाफ झूठे आरोप लगाने के लिए उनसे माफी भी मांगी।

युवराज के परिवार ने बयान में कहा, ‘‘अपने खिलाफ कानून की प्रक्रिया से बचने का कोई तरीका नहीं होने के कारण आकांक्षा शर्मा ने माफी मांग ली है और स्वीकार किया है कि उनके सभी आरोप झूठे और गलत थे। उन्होंने इन आरोपों को वापस ले लिया है।’’

पढ़ें:- केएल राहुल की खराब फॉर्म का फायदा उठा सकते हैं रोहित शर्मा

आकांक्षा ने गुरुग्राम की अदालत में अक्तूबर 2017 में घरेलू हिंसा का मामला दायर कराया था जिसमें युवराज और उनकी मां शबनम को आरोपी बनाया गया था।

परिवार ने कहा, ‘‘फायदा उठाने की उम्मीद के साथ निजी दुर्भावनापूर्ण कारणों से युवराज की प्रतिष्ठा को दांव पर लगाया गया। हम एक बार फिर युवराज पर गर्व महसूस करते हैं जिन्होंने हमेशा भगवान और इस महान देश की न्यायपालिका पर अटूट विश्वास के साथ वापसी करने का फैसला किया।’’