© Getty Images
© Getty Images

टीम इंडिया श्रीलंका से सीमित ओवर सीरीज में दो-दो हाथ करने के लिए तैयार है। वे श्रीलंका के खिलाफ 3 वनडे और 3 टी20 मैच खेलेंगे। लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल इस सीरीज में ज्यादातर मौकों का फायदा उठाते हुए अगले साल द. अफ्रीका में खेली जाने वाली सीरीज के लिए दावेदारी पेश करने में कोई कसर नहीं छोड़ना चाहेंगे। चहल ने हाल ही में इंडिया टीवी से बातचीत में कहा कि मौजूदा टीम इंडिया बहुत संतुलित है।

इस सीरीज में टीम इंडिया के नियमित कप्तान विराट कोहली नहीं खेलेंगे क्योंकि उन्हें आराम दिया गया है। उनकी जगह रोहित शर्मा टीम की कप्तानी करेंगे। चहल का मानना है कि रोहित की कप्तानी में खेलना मजेदार होगा। उन्होंने ये भी कहा कि जो मौजूदा टीम में खिलाड़ी हैं वो बल्लेबाजी को और भी मजबूत बनाते हैं, और यहीटीम की सफलता की कुंजी रही है।

युजवेंद्र चहल ने कहा, “टीम में ज्यादा यूनिटी है क्योंकि हम सब लगभग एक ही उम्र के हैं, हर खिलाड़ी को टीम में अपनी भूमिका के बारे में पता है और वे एक दूसरे से अच्छी तरह हिलते मिलते भी हैं। बल्लेबाज मैदान पर जाते हुए हर बार अच्छे रन बनाते हैं इससे गेंदबाजों के लिए आसान हो जाता है कि वे विपक्षी बल्लेबाजों पर हमला बोल सकें।”

रोहित की कप्तानी में खेलने पर:

जब उनसे रोहित शर्मा की कप्तानी में खेलने के बारे में पूछा गया तो युजवेंद्र ने कहा कि उन्होंने अपना आईपीएल डेब्यू रोहित शर्मा की कप्तानी में मुंबई इंडियंस के लिए किया था। वैसे उन्होंने इस बात पर जोर देते हुए कहा कि रोहित और कोहली की कप्तानी में तुलना करना सही नहीं होगा। हालांकि, उन्होंने कहा कि दोनों ही खिलाड़ियों में मैच जीतने की भूंख बराबर है।

चहल ने कहा, “मैंने अपना आईपीएल डेब्यू साल 2013 में किया था और पहला मैच मुंबई इंडियंस की ओर से रोहित शर्मा की कप्तानी में खेला था। विराट की ही तरह रोहित भी एक आक्रामक कप्तान हैं और सामने से टीम की अगुआई करना पसंद कते हैं। हम दोनों कप्तानों की तुलना नहीं कर सकते क्योंकि दोनों का टीम की अगुआई करने का अपना तरीका है लेकिन हम जानते हैं कि दोनों में जीत की भूंख है। रोहित ने आईपीएल में मुंबई इंडियंस के लिए अच्छा काम किया है और अपनी टीम को अंतिम एडीशन में जीत भी दिलवाई है।”

शाहिद अफरीदी का 'बूम-बूम' धमाका, ढाका डायनामाइट्स BPLके फाइनल में
शाहिद अफरीदी का 'बूम-बूम' धमाका, ढाका डायनामाइट्स BPLके फाइनल में

अक्षर पटेल ने की धोनी के बारे में बातचीत:

एक अन्य स्पिनर जो टीम में अपनी जगह बनाने के लिए लालायित हैं वह हैं अक्षर पटेल। हाल फिलहाल में पिच की परिस्थिति और टीम की रणनीति को देखते हुए अक्षर को प्लेइंग इलेवन से कई बार अंदर बाहर किया गया है। पटेल ने इंडिया टीवी के हवाले से एमएस धोनी के महत्व और टीम इंडिया में उनकी भूमिका पर बातचीत की। अक्षर ने यह बात बताई कि धोनी इंडियन क्रिकेट के बड़े नाम हैं। उनकी गेम को पढ़ने की काबिलियत और विभिन्न परिस्थितियों का आंकलन टीम के खिलाड़ियों के बहुत काम आती है।

उन्होंने कहा, “एमएस धोनी भारतीय क्रिकेट में एक बड़ा नाम हैं और उन्होंने अपने देश की अगुआई 1 दशक से ज्यादा दिनों तक शीर्ष स्तर पर की है। उनके जैसी गेम को पढ़ने की काबिलियत अन्य किसी में नहीं है और उनका अनुभव श्रीलंका के खिलाफ सीरीज में टीम के लिए मददगार साबित होगा।”