yuzvendra chahal wants to make test debut but knows it is too difficult
युजवेंद्र चहल @ICCTwitter

सीमित ओवरों में टीम इंडिया के स्टार लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल (Yuzvendra Chahal) भी भारतीय टीम के लिए सफेद कपड़ों में खेलना चाहते हैं. 30 साल के चहल भारतीय टीम के लिए सीमित ओवरों के फॉर्मेट में 54 वनडे और 48 टी20 मैच खेल चुके हैं. लेकिन 5 साल के इंटरनेशनल करियर में उन्हें आज तक टेस्ट डेब्यू का मौका नहीं मिला है.

हालांकि हरियाणा में जन्मे इस स्टार लेग स्पिनर का फर्स्ट क्लास क्रिकेट में रिकॉर्ड शानदार है. उन्होंने 31 मैचों में कुल 84 विकेट अपने नाम किए हैं. लेकिन भारतीय टेस्ट टीम में जब भी उसके फ्रंटलाइन स्पिनर रविचंद्रन अश्विन और रवींद्र जडेजा अगर चोटिल होने के कारण बाहर भी हुए हैं तो भी सिलेक्टर्स ने चहल को कभी मौका नहीं दिया है.

ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के खिलाफ हाल ही में खेली गई सीरीज के दौरान रविचंद्रन अश्विन और रविंद्र जडेजा चोटिल होने के कारण कई टेस्ट मैच से बाहर भी हुए लेकिन इस दौरान वॉशिंग्टन सुंदर, कुलदीप यादव, शाहबाज नदीम और अक्षर पटेल को मौका मिला.

चहल ने हाल ही में यूट्यूब चैनल स्पोर्ट्स तक पर एक इंटरव्यू दिया. इस दौरान उन्होंने अपने टेस्ट क्रिकेट में खेलने की सपने पर भी बात की. इस लेग स्पिनर ने कहा, ‘बिल्कुल आप यह चाहते हैं कि सफेद ड्रेस में भी अपने देश के लिए खेलें. अगर कोई आपको टेस्ट क्रिकेटर कहकर पुकारता है तो इससे बड़ी तारीफ कोई नहीं हो सकती. बीते 3-4 सालों में मैंने 10 प्रथम श्रेणी मैचों में 50 विकेट लिए हैं. इनमें से दो मैच मैंने भारत A के लिए भी खेले.’

वैसे भारतीय टेस्ट टीम में मौजूदा स्पिनरों को देखें तो यहां अश्विन और जडेजा लाजवाब हैं. खासतौर से बीते 4 से 5 सालों में वे दोनों घर पर बहुत ही खतरनाक रहे हैं. इस पर चहल ने कहा, ‘आप देखिए, अक्षर को मौका मिला और उन्होंने शानदार किया. अश्विन, जडेजा और कुलदीप पहले से ही वहां मौजूद हैं. तो ऐसे में आप जानते हैं कि आपको मौका मिलना कितना मुश्किल है. खासतौर से जब वे बेहद शानदार प्रदर्शन कर रहे हों. अश्विन भैया ने हाल ही में अपने 400 टेस्ट विकेट पूरे किए. जड्डू पा (जडेजा) के नाम भी 250 से ज्यादा टेस्ट विकेट दर्ज हैं. उन्हें देखकर आपको अहसास होता है कि अभी आपको अपने खेल में और सुधार करने की जरूरत है.’