Zimbabwe cricket’s ex director banned for 10 years in fixing case

जिम्‍बाब्‍वे क्रिकेट के पूर्व निदेशक एनोक कॉप पर आईसीसी ने मैच फिक्सिंग के मामले में 10 साल का बैन लगाया है। साल 2017 में जिम्‍बाब्‍वे टीम के वेस्‍टइंडीज दौरे के दौरान सामने आए मैच फिक्सिंग के प्रयास के मामले में उन्‍हें जांच प्रभावित करने का दोषी पाया गया।

पढ़ें:- विराट बोले, धोनी-रोहित ने विजय शंकर को 46वें ओवर में गेंद देने से रोका था

एनोक कॉप पर आईसीसी के एंटी करप्‍शन के तीन नियमों का उल्‍लंघन करने के मामले में ये कार्रवाई की गई है। इससे पहले आईसीसी ने पिछले साल मार्च 2018 में इसी मामले में जिम्‍बाब्‍वे क्रिकेट के सीनियर अधिकारी राजन नायर पर 20 साल का बैन लगाया था।

नायर हरारे मेट्रोपॉलिटन क्रिकेट एसोसिएशन के कोषाध्यक्ष व मार्केटिंग हेड पद पर थे। उन्‍होंने तत्‍कालीन कप्‍तान ग्रीम क्रेमर को वेस्‍टइंडीज के खिलाफ टेस्‍ट सीरीज का नतीजा फिक्‍स करने के लिए 30 हजार यूएस डॉलर का ऑफर दिया था। ये सीरीज जिम्बाब्‍वे ने जीती थी। कप्‍तान ने उस समय के कोच हीथ स्ट्रीक को इसकी जानकारी दी थी। जिसके बाद आईसीसी को इस पूरे घटनाक्रम से अवगत कराया गया था।

पढ़ें:- 500 वनडे मैच जीतने वाली वर्ल्‍ड की दूसरी टीम बनी टीम इंडिया

आईसीसी का कहना है कि एनोक कॉप ने उक्‍त मामले में जांच में सहयोग नहीं किया। आईसीसी की एंटी करप्‍शन यूनिट द्वारा जब उनसे मोबाइल फोन मांगा गया तो उन्‍होंने उसमें से सभी अहम जानकारी डिलीट करने के बाद अपना फोन सौंपा।