इंग्लैंड के खिलाफ डे-नाइट टेस्ट मैच से पहले भारतीय बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) ने कहा है कि मोटेरा से नए स्टेडियम क पिच पर टेस्ट अनुभव काम नहीं आएगा, खासकर तब जब आप एक ही पिंक बॉल टेस्ट मैच खेलें हो।

टीम इंडिया के इस शीर्ष क्रम बल्लेबाज पुजारा ने कहा कि इस नई पिच पर गेंद के व्यवहार की भविष्यवाणी करना कठिन है, जहां भारत और इंग्लैंड के बीच 24 फरवरी से डे-नाइट टेस्ट मैच खेला जाना है। भारत का अब तक का ये तीसरा टेस्ट मैच होगा।

पुजारा ने शनिवार को मीडिया से कहा, “यहां तक कि मैंने कई टेस्ट मैच खेले हैं, लेकिन गुलाबी रंग के साथ भी मुझे उतना अनुभव नहीं है। मुझे नहीं लगता कि जब आप टेस्ट मैच में एक-एक मैच खेल रहे होते हैं, तो गुलाबी गेंद से एकतरफा खेल खेलते हैं।”

उन्होंने कहा, “ये एक नया स्टेडियम है, एक नई पिच है। एक बार जब हम और ज्यादा मैच खेलते हैं, तो हमें पिच का पता चल जाएगा। टेस्ट शुरू होने से पहले हमारे पास अभी भी तीन-चार दिन हैं और उस दौरान बहुत कुछ बदल सकता है। गुलाबी गेंद के साथ मैच की भविष्यवाणी करना बहुत मुश्किल है।”

पुजारा ने कहा, “हम गुलाबी गेंद से खेल रहे हैं। मैच शुरू होने से पहले आकलन करना और जज करना मुश्किल है, क्योंकि आप कुछ की उम्मीद कर रहे हैं और ये गुलाबी गेंद के साथ कुछ और निकलता है। हम खिलाड़ियों के रूप में चीजों को सरल रखने और पिच की चिंता नहीं करने की कोशिश करेंगे।”

भारत और इंग्लैंड के बीच खेली जा रही चार मैचों की टेस्ट सीरीज फिलहाल 1-1 से बराबरी पर है और तीसरा मैच 24 फरवरी से अहमदाबाद के सरदार पटेल स्टेडियम में खेला जाना है।