IPL 2020, Royal Challengers Bangalore vs Kings Xi Punjab, 31st Match, Preview: अच्छा प्रदर्शन करने के बावजूद जीत की रेखा पार करने में नाकाम रही किंग्स इलेवन पंजाब (KXIP) विस्फोटक क्रिस गेल (Chris Gayle) के सहारे रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर (RCB)) के खिलाफ गुरुवार को होने वाले मैच से इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2020) में अपने अभियान को वापस पटरी पर लाने का प्रयास करेगा।

किंग्स इलेवन ने अब तक कुछ करीबी मैच गंवाए हैं। उसने जो सात मैच खेले हैं उनमें से छह में उसे हार का सामना करना पड़ा और प्लेऑफ की उम्मीदों को बनाए रखने के लिए उसे अब हर हाल में जीत दर्ज करनी होगी।

टीम की ताकत:

किंग्स इलेवन ने टूर्नामेंट में अपनी एकमात्र जीत आरसीबी के खिलाफ ही हासिल की थी और वो गुरुवार को 24 सितंबर की उस जीत से प्रेरणा लेने की कोशिश करेगा लेकिन ये नहीं भूलना चाहिए कि विराट कोहली की अगुवाई वाली टीम ने तब से अपने खेल में काफी सुधार कर दिया है।

शारजाह का विकेट हालांकि धीरे धीरे धीमा पड़ता जा रहा है लेकिन यहां का छोटा मैदान गेल सरीखे ‘सिक्सर किंग’ के लिये आदर्श साबित हो सकता है। वैसे इस 41 वर्षीय बल्लेबाज के लिये पहली गेंद से ही हावी होना आसान नहीं होगा क्योंकि वो अभी तक टूर्नामेंट में नहीं खेले हैं।

गेल को पिछले दो मैचों में खेलना था लेकिन ‘फूड पॉइजनिंग’ के कारण उन्हें बाहर बैठना पड़ा। अब जबकि वो पूरी तरह से फिट हैं तब ये देखना दिलचस्प होगा कि उन्हें किसकी जगह पर प्लेइंग इलेवन में शामिल किया जाता है।

ग्लेन मैक्सवेल को बाहर रखना एक विकल्प हो सकता है क्योंकि वो अभी तक अपना जलवा नहीं दिखा पाए हैं। इसके अलावा किसी विदेशी गेंदबाज की कीमत पर गेल को अंतिम एकादश में रखा जा सकता है।

किंग्स इलेवन कप्तान केएल राहुल (387 रन) और उनके सलामी जोड़ीदार मयंक अग्रवाल (337 रन) के शानदार प्रदर्शन के बावजूद अंकतालिका में सबसे निचली पायदान पर है।

गेंदबाजी उसके लिए चिंता का विषय है क्योंकि मोहम्मद शमी और रवि बिश्नोई को छोड़कर कोई भी गेंदबाज खासकर डेथ ओवरों में प्रभावशाली गेंदबाजी नहीं कर पाया है। सही संतुलन तैयार करने के प्रयास में लगातार बदलाव भी किंग्स इलेवन की खराब स्थिति का कारण है।

किंग्स इलेवन को अब उस आरसीबी का सामना करना है जिसके प्रदर्शन में निरंतर सुधार होता जा रहा है। पिछले कई वर्षों में पहली बार लग रहा है कि वह गेंदबाजी की अपनी कमजोरी से उबर गया है।

वाशिंगटन सुंदर और युजवेंद्र चहल की स्पिन जोड़ी बेहद प्रभावी रही है जबकि क्रिस मॉरिस के चोट से वापसी करने के बाद उनके तेज गेंदबाजी विभाग को मजबूती मिली है।

आरसीबी ने पिछला मैच कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ इसी मैदान पर खेला था और वह यहां की पिच की बदलती प्रकृति से वाकिफ हैं। किंग्स इलेवन ने यहां अपना आखिरी मैच 27 सितंबर को खेला था और तब विकेट बल्लेबाजी के लिये अधिक अनुकूल था।

एरोन फिंच फार्म में वापसी कर चुके हैं। आरसीबी के शीर्ष चार बल्लेबाज (फिंच, देवदत्त पडिक्कल, विराट कोहली और एबी डिविलियर्स) किसी भी गेंदबाजी आक्रमण की धज्जियां उड़ा सकते हैं।

रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर:

विराट कोहली (कप्तान), एबी डिविलियर्स, पार्थिव पटेल, आरोन फिंच, जोश फिलिप, क्रिस मॉरिस, मोइन अली, मोहम्मद सिराज, शाहबाज अहमद, देवदास पडिक्कल, युजवेंद्र चहल, नवदीप सैनी, डेल स्टेन, पवन नेगी, इसुरु उदाना, शिवम दुबे, उमेश यादव, गुरकीरत सिंह मान, वाशिंगटन सुंदर, पवन देशपांडे, एडम ज़म्पा।

किंग्स इलेवन पंजाब:

केएल राहुल, हरप्रीत बराड़, इशान पोरेल, मनदीप सिंह, जेम्स नीशाम, तजिंदर सिंह, क्रिस जॉर्डन, करुण नायर, दीपक हुड्डा, रवि बिश्नोई, अर्शदीप सिंह, ग्लेन मैक्सवेल, मुजीब उर रहमान, सरफराज खान, शेल्डन कॉटरेल, मयंक अग्रवाल, मोहम्मद शमी, दर्शन नलकांडे, निकोलस पूरण, क्रिस गेल, मुरुगन अश्विन, जगदीश सुचित, कृष्णप्पा गौतम, हार्डस विलोजेन, सिमरन सिंह।