not getting named in odi squad give motivation to play better says shafali verma
शैफाली वर्मा ©BCCI

महिला टी20 इंटरनेशनर रैंकिंग में नंबर एक बल्लेबाज भारत की शेफाली वर्मा (Shafali Verma) को अभी तक भारत की वनडे टीम में जगह नहीं मिली है. भारत की इस युवा बल्लेबाज ने कहा कि इससे वह निराश हुई थीं और इसने उन्हें और ज्यादा मेहनत करने के लिए प्रेरित भी किया. शेफाली ने कहा कि मैं समझती हूं कि मेरे ही खेल में कुछ कमी है, जिसके चलते मुझे वनडे टीम में अब तक जगह नहीं मिली है.

साउथ अफ्रीका के खिलाफ (IND w vs SA w T20i Series) हाल ही में खत्म हुई टी20 सीरीज में भारत को 1-2 से हार का सामना करना पड़ा. हालांकि 17 साल की इस युवा खिलाड़ी को ‘प्लेयर ऑफ द सीरीज’ चुना गया. मंगलवार को खेले गए तीसरे और अंतिम टी20 इंटरनेशनल मैच में उन्होंने 30 बॉल की अपनी पारी में 60 रन की लाजवाब पारी खेली, जिससे भारत को इस सीरीज में एकमात्र जीत मिल पाई.

शेफाली टी20 में अपनी शानदार फॉर्म की बदौलत छोटे प्रारूप की आईसीसी रैंकिंग में शीर्ष पर पहुंची थीं. लेकिन यह टॉप रैंकिंग भी उन्हें वनडे टीम में जगह नहीं दिला पाई और वह इसके बारे में कोई शिकायत भी नहीं कर रही हैं. शेफाली ने मैच के बाद ऑनलाइन प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ‘जब मुझे वनडे के लिए नहीं चुना गया तो मुझे महसूस हुआ कि मेरे खेल में कुछ चीज की कमी है.’

उन्होंने कहा, ‘लेकिन मैं कप्तान या कोच के पास इसके बारे में पूछने के लिए नहीं गई क्योंकि मैं जानती थी कि अगर मेरा नाम इसमें शामिल नहीं है तो शायद यह इसलिए होगा कि मेरे अंदर कुछ कमी होगी.’

हरियाणा की इस खिलाड़ी ने कहा कि जब भी उन्हें वनडे से बाहर किया गया है तो उन्होंने खुद को बेहतर खिलाड़ी बनने की ओर प्रयास किया है. शफाली ने अभी तक 22 टी20 इंटरनेशनल मैच खेले हैं, जिसमें उनके नाम 29.38 के औसत से कुल 617 रन दर्ज हैं. वह अब तीन हाफ सेंचुरी भी जमा चुकी हैं.

इनपुट: भाषा