sri lanka beat australia in 2nd odi to equal 5 match series 1-1
Photo- Sri Lanka Cricket Twitter

ऑस्ट्रेलिया के सामने 43 ओवर में 216 रन का लक्ष्य था। श्रीलंका की पारी बारिश के कारण प्रभावित हुई थी। और डकवर्थ लुईस नियम के अनुसार ऑस्ट्रेलियाई टीम के सामने यह आसान सा लगने वाला टारगेट आया। लेकिन कंगारू टीम सिर्फ 189 पर ही सिमट गई। पल्लेकल की धीमी पिच पर गेंदबाजों ने अपना जलवा दिखाया। और श्रीलंकाई गेंदबाज ज्यादा भारी पड़े। ऑस्ट्रेलिया ने DLS नियम से मुकाबला 26 रन से जीता।

श्रीलंका की ओर से पहले धनंजय डि सिल्वा ने अपनी ऑफ स्पिन से शुरुआती दो विकेट झटके और उसके बाद दुनिथ वेलालगे ने मिडल-ऑर्डर को अपनी फिरकी पर नचाया।

इसके साथ ही दुष्मंता चमीरा ने 6.1 ओवर में सिर्फ 19 रन देकर दो विकेट लिए। वहीं चामिका करुणारत्ने सात ओवरों में 47 रन देकर थोड़े महंगे तो साबित हुए लेकिन उन्होंने तीन विकेट भी हासिल किए। इसमें से एक ग्लेन मैक्सवेल का कीमती विकेट भी था।

ऐसा नहीं कि सिर्फ श्रीलंकाई गेंदबाजों ने पिच का फायदा उठाया। ऑस्ट्रेलिया के पैट कमिंस ने 8.4 ओवर में 35 रन देकर चार विकेट लिए। मैक्सवेल और बाएं हाथ के स्पिनर मैथ्यू कुहनमैन ने दो-दो विकेट लिए।

बल्लेबाजी के लिए पिच बहुत माकूल नहीं थी। इस पिच पर सबसे ज्यादा स्कोर डेविड वॉर्नर ने बनाया। ऑस्ट्रेलिया की ओर से उन्होंने 37 रन की पारी खेली। दोनों टीमों के लिए सबसे बड़ी साझेदारी डि सिल्वा और कुसल मेंडिस के बीच रही। श्रीलंका के लिए तीसरे विकेट के लिए उन्होंने 61 रन जोड़े। ऑस्ट्रेलिया की ओर से कोई भी साझेदारी 40 से ज्यादा नहीं हुई।

ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीता और पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। आम तौर पर माना जाता है कि बरसात से प्रभावित मुकाबलों में बाद में बल्लेबाजी करने वाली टीम को फायदा होता है लेकिन श्रीलंका के गेंदबाजों ने अपनी पकड़ बनाए रखी। महेश तीक्ष्णा और जेफरी वेडेरसे को विकेट से काफी टर्न मिला। हालांकि वे विकेट नहीं ले पाए लेकिन उन्होंने ऑस्ट्रेलियाई टीम पर लगाम लगाए रखी। चमीरा ने जैसे ही कुहनेमैन को बोल्ड किया मैदान में मौजूद श्रीलंकाई प्रशंसक खुशी से झूम उठे।

श्रीलंका ने कुसल मेंडिस के 36 और धनजंय डि सिल्वा व कप्तान दासुन शनाका के 34-34 रन की बदौलत 220 का स्कोर हासिल किया। 47.4 ओवर में जब टीम का स्कोर इतना था तो बारिश आ गई। और लंकाई पारी को यहीं समाप्त मान लिया गया। इसके बाद ऑस्ट्रेलिया को 43 ओवर में 216 रन का टारगेट मिला।

वॉर्नर के 37 और स्टीव स्मिथ के 28 रनों की पारियों के वक्त लग रहा था कि ऑस्ट्रेलिया शायद लक्ष्य को हासिल कर लेगा। स्टीव स्मिथ जब आउट हुए तो ऑस्ट्रेलिया का स्कोर 20 ओवर में 23 विकेट पर 93 रन था।

इसके बाद जब तक ग्लेन मैक्सवेल क्रीज पर रहे ऑस्ट्रेलिया जीत का दावेदार नजर आ रहा था। लेकिन करुणारत्न ने मैक्सवेल को 30 के स्कोर पर आउट कर दिया। और यहीं से ऑस्ट्रेलियाई पारी ढहनी शुरू हो गई। 170 रन पर पांच के स्कोर से 189 पर ऑल आउट गई। वह भी सिर्फ अगली 17 गेंद पर। पांच मैचों की सीरीज अब 1-1 से बराबर है। सीरीज का अगला मैच 19 जून को खेला जाएगा।