Wanted to play for Australia Usman Qadir makes his international debut for Pakistan

वनडे सीरीज में जीत के बाद जिम्बाब्वे दौरे पर टी20 सीरीज खेलने उतरी पाकिस्तान क्रिकेट टीम ने बाएं हाथ के स्पिनर उसमान कादिर को अंतरराष्ट्रीय डेब्यू का मौका मिला। 27 साल के कादिर ने रावलपिंडी क्रिकेट स्टेडियम में खेले जा रहे पहले टी20 मैच में पहली बार अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में कदम रखा।

किसी भी खिलाड़ी के लिए अपनी राष्ट्रीय टीम की कैप पहनना गर्व की बात होती है जो बात कादिर पर भी लागू होती है लेकिन पाकिस्तान के लिए अंतरराष्ट्रीय डेब्यू करना उनकी पहली ख्वाहिश नहीं थी।

लाहौर में पैदा हुआ ये खिलाड़ी साल 2018 तक ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम के लिए टी20 विश्व कप खेलने का सपना देखा करता था।

कादिर के पिता अब्दुल कादिर भी पाकिस्तान क्रिकेट के जाने-माने स्पिन गेंदबाज हैं। साथ ही उनके भाई सुलमान कादिर भी पाकिस्तान के लिए अंडर-19 क्रिकेट खेर चुके हैं। इसके बावजूद ये खिलाड़ी ऑस्ट्रेलिया के लिए खेलना चाहता था।

टी20 फॉर्मेट की योजनाओं में अब भी शामिल हैं होल्डर: कोच सिमंस

ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट के लिए कादिर का लगाव बिग बैश लीग के साथ शुरु हुआ। जब मौजूदा ऑस्ट्रेलियाई टीम के कोच जस्टिन लैंगर बीबीएल टीम पर्थ स्क्रोचर्स के लिए एक लेग स्पिनर की तलाश कर रहे थे। लैंगर की ये तलाश 25 साल के उसमान पर आकर खत्म हुई जो हॉक्सबरी के लिए सिडनी प्रीमियर क्रिकेट में विकेटों की झड़ी लगा रहे थे।

इस पाक गेंदबाज से प्रभावित होकर लैंगर ने उन्हें ब्रिसबेन में टीम के ट्रेनिंग सेशन में बुलाया। ईएसपीएन से बातचीत में उस सेशन के बारे में कादिर ने कहा था कि, “मैं वहां गया और मैं काफी नर्वस था। मैं गेंदबाजी करना शुरू कर दिया और एक-दो गेंदो के बाद मेरा आत्मविश्वास लौट आया और जस्टिन लैंगर को मैं पसंद आया।”

बीबीएल टूर्नामेंट में हिस्सा लेने के बाद कदिर की ऑस्ट्रेलिया के लिए खेलने की इच्छा और भी बढ़ गई लेकिन उनके पिता हमेशा से चाहते थे कि वो पाकिस्तान की जर्सी पहने और आज उनका ये सपना सच हुआ।