ललित मोदी © Getty Images
ललित मोदी © Getty Images

बीसीसीआई ने राजस्थान क्रिकेट बोर्ड पर चार साल से लगा हुआ प्रतिबंध हटाने से साफ इंकार कर दिया है। इसका कारण जानकर आपको हैरानी होगी, दरअसल आईपीएल के पूर्व अध्यक्ष ललित मोदी की वजह से बीसीसीआई ने राजस्थान क्रिकेट बोर्ड पर प्रतिबंध लगा दिया था। 2013 में जब बीसीसीआई ने मोदी पर प्रतिबंध लगाया था तब बोर्ड के ये साफ निर्देश थे कि वह राजस्थान क्रिकेट बोर्ड से जुड़े किसी भी संगठन का हिस्सा नहीं रहेंगे। इसके बावजूद मोदी आज भी राजस्थान के नागौर जिला क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष हैं। बीसीसीआई के अधिकारी ने एक प्रतिष्ठित अंग्रेजी अखबार से बातचीत में कहा कि, “हमने राजस्थान बोर्ड को 2013 में जो नोटिस भेजा था उसमें यह साफ लिखा था कि मोदी उनके किसी भी जिले में कहीं किसी पद पर नहीं रहेंगे। मोदी अब भी नागौर जिले के अध्यक्ष हैं, जब तक उन्हें इस पद से नहीं हटाया जाएगा राजस्थान बोर्ड पर से प्रतिबंध नहीं हटाया जाएगा।” [ये भी पढ़ें: फाइनल की जंग के लिए इन टीमों के बीच होगा ‘घमासान’]

पिछले महीने सीपी जोशी ने ललित मोदी के बेटे रुचिर को राजस्थान क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष के चुनाव में खड़े होने के लिए आमंत्रित किया था। जोशी ने हाल ही में राजस्थान क्रिकेट बोर्ड पर लगे प्रतिबंध को लेकर बीसीसीआई को पत्र भी लिखा है। उन्होंने पत्रकारों से बात करते हुए कहा, “हमने बीसीसीआई को पत्र लिखकर पूछा है कि राजस्थान क्रिकेट बोर्ड का प्रतिबंध किस तरह हटाया जा सकता है। अगर किसी भी स्थिति में मोदी की वजह से कोई परेशानी है तो हम इस मुद्दे को सालाना आम बैठक में रखेंगे ताकि इसे सुलझाया जा सके। पहले हम बीसीसीआई से इस मुद्दे पर पूरी जानकारी लेंगे उसके बाद ही हम निश्चित करेंगे कि आगे क्या करना है।” बता दें कि 2013 के बाद से राजस्थान के किसी भी स्टेडियम में कोई भी क्रिकेट मैच नहीं खेला गया है।