बेन स्टोक्स © Getty Images
बेन स्टोक्स © Getty Images

इंग्लैंड के ऑलराउंडर खिलाड़ी बेन स्टोक्स ने बुधवार को कैटी प्राइस और उनके बेटे से माफी मांग ली। स्टोक्स ने एक दिव्यांग लड़के का मजाक बनाया था जिसके बाद उनका ये वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से फैल रहा था। वीडियो के वायरल होने के बाद स्टोक्स की जमकर आलोचना हो रही थी और अब उसी वीडियो के मामले में स्टोक्स ने दोनों से माफी मांग ली है। स्टोक्स ने माफी मांगते हुए कहा, ”मैंने वो क्लिप देखने के बाद कई बार उसे कॉपी करने की कोशिश की। मुझे ऐसा बिलकुल नहीं करना चाहिए था और मैं इसके लिए माफी मांगता हूं।”

स्टोक्स ने आगे कहा, ”मेरा इरादा किसी को ठेस पहुंचाने का नहीं था।” दरअसल, ये मामला तब शुरू हुआ जब टीवी शो में हार्वे से पूछा गया कि अगर आपको इंटरनेट पर ट्रॉलिंग का शिकार होना पड़े तो आप क्या करेंगे? इसके बाद स्टोक्स ने उस क्लिप की कई बार नकल की थी और मजाक बनाने की कोशिश की थी। वहीं ब्रिस्टल मारपीट में शामिल होने के कारण स्टोक्स को स्पॉन्सर करने वाली अमेरिकी कंपनी न्यू बैलेंस ने भी स्टोक्स के साथ अपना करार खत्म कर दिया है। ब्रिस्टल मारपीट मामले में नाम आने के बाद कंपनी ने ये करार खत्म करने का फैसला किया है। ये भी पढ़ें: 1 नवंबर को अपने अंतर्राष्ट्रीय करियर का आखिरी मैच खेलेंगे आशीष नेहरा!

न्यू बैलेंस ने स्टोक्स के साथ सालाना 200,000 पाउंड का करार किया था। मामले पर अमेरिकी कंपनी ने बयान जारी करते हुए कहा, ”न्यू बैलेंस किसी भी ग्लोबल एथलीट से इस तरह की हरकत की उम्मीद नहीं करता। ये हमारे उसूल और सभ्यता के खिलाफ है। इसको ध्यान में रखते हुए हम स्टोक्स के साथ अपने करार को खत्म करते हैं।” आपको बता दें कि एशेज सीरीज से अभी स्टोक्स को बाहर नहीं किया गया है। हालांकि अगले फैसले तक उन्हें टीम से बाहर रखा गया है।