Delhi U-23 players Sent home due to misbehavior with female staff in hotel in Kolkata
फिरोजशाह कोटला स्टेडियम © BCCI (Representational Image)

दिल्ली अंडर-23 टीम के दो खिलाड़ियों कुलदीप यादव और लक्ष्य थरेजा को दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए) ने बंगाल के खिलाफ सी के नायडू ट्राफी मैच से पहले कोलकाता होटल की महिला कर्मचारी के साथ कथित दुर्व्यवहार करने के कारण घर भेज दिया।

बल्लेबाज थरेजा ने दिल्ली की तरफ से एक लिस्ट ए मैच खेला है जिसमें उन्होंने अर्धशतक लगाया था जबकि तेज गेंदबाज कुलदीप का पंजाब के खिलाफ होने वाले अगले रणजी मैच में इशांत शर्मा की जगह लेना तय था। पता चला है कि मामले की पुलिस में शिकायत नहीं की गयी है लेकिन डीडीसीए ने अपने निदेशक संजय भारद्वाज को कोलकाता भेज दिया है।

डीडीसीए के एक वरिष्ठ अधिकारी ने पीटीआई से कहा, ‘‘संजय भारद्वाज कोलकाता में हैं। दोनों खिलाड़ी बंगाल के खिलाफ आज से शुरू हुए मैच में नहीं खेल रहे हैं। उन्हें आचार संहिता के उल्लंघन के कारण वापस घर भेज दिया गया है। हमने सुना है कि उन्होंने कथित तौर पर महिलाकर्मी का दरवाजा खटखटाया था और सीसीटीवी फुटेज से उनकी पहचान हुई। सौभाग्य से इस मामले की पुलिस शिकायत नहीं की क्योंकि दिल्ली टीम ने होटल अधिकारियों से बिना शर्त माफी मांग ली थी।’’

जोफ्रा आर्चर नो-बॉल विवाद पर फिलेंडर ने कहा- अंपायर्स को करना होगा सही फैसला

इशांत पंजाब के खिलाफ मैच के लिए उपलब्ध नहीं रहेंगे और ऐसे में कुलदीप का प्लेइंग इलेवन में जगह बनाना तय माना जा रहा था, लेकिन अब देखना होगा कि डीडीसीए इन दोनों खिलाड़ियों के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई करता है या नहीं।