×

विराट-टिम पेन के बीच कुछ भी मर्यादा से बाहर नहीं हुआ: जस्टिन लैंगर

पर्थ टेस्‍ट के दौरान विराट कोहली और टिम पेन के बीच विवाद चर्चा का विषय बना रहा था।

Virat Kohl Tim Painei@ AFP

Virat Kohl with Tim Paine @ AFP

ऑस्‍ट्रेलियाई कोच जस्टिन लैंगर ने पर्थ टेस्‍ट जीतने के बाद माना कि भारतीय टीम काफी आक्रमक थी। हालांकि इस दौरान सीमाएं नहीं लांघी गई। फॉक्‍स क्रिकेट से बातचीत के दौरान लैंगर ने कहा, “बतौर कप्‍तान दोनों खिलाड़ी खेल में अपने नेतृत्‍व की छाप छोड़ने का प्रयास कर रहे थे। मुझे मैच के दौरान किसी भी वक्‍त दोनों कप्‍तानों के द्वारा अभद्र भाषा नहीं दिखी बल्कि मैं कहूंगा कि मैच के दौरान काफी मजाक देखने को मिला। टेस्‍ट मैच में ये सब होना चाहिए। ये खेल का हिस्‍सा है। दोनों टीमों की तरफ से मैच में मस्‍ती देखने को मिली।”

पढ़े:- कप्तान विराट कोहली का बर्ताव ‘अपमानजनक’ और ‘मूर्खतापूर्ण’

जस्टिन लैंगर इस बात से खुश हैं कि शुरुआत में भारत के आक्रमक रवैये के सामने ऑस्‍ट्रेलियाई टीम डट कर खड़ी नजर आई। ‘तीसरे दिन का खेल खत्‍म होते वक्‍त चीजें काफी भावुक हो गई थी। सच बताऊं तो मुझे लगा कि भारतीय टीम काफी आक्रमक है, लेकिन मुझे मजा आया। यही ट्रेस्‍ट क्रिकेट है। हमें मैदान पर अपनी प्रतिभा काे समझना होगा। हम पर्थ टेस्‍ट में ऐसा कर पाए।’

पढ़े:- भारत ने पर्थ में टीम में स्पिनर नहीं रखकर गलती की : संजय मांजरेकर

जस्टिन लैंगर ने कहा, “डेनिस लिली और जावेद मियांदाद के दिन अब जा चुके हैं। एक समय में एंड्रयू साइमंड्स  भी मैच देखने आए फैन्‍स के खिलाफ उग्र रवैया अपना चुके हैं। ये घटनाएं काफी चर्चा में रही, लेकिन आज के समय में जब हर जगह कैमरे लगे हैं हम उस तरह की घटनाओं की कल्‍पना नहीं कर सकते हैं। अगर उस तरह की चीजें अब होती है तो इसे पागलपन कहा जाएगा। वो क्रिकेट नहीं था। विराट और टिम पेन काफी करीब आ गए थे, लेकिन उनके बीच कोई संपर्क नहीं हुआ। ये क्रिकेट का हिस्‍सा है। इसमें कुछ भी गलत नहीं है।”

जस्टिन लैंगर ने कहा कि रिषभ पंत के आउट होने के बाद ही वो थोड़े रिलेक्‍स हुए थे। वो काफी खतरनाक खिलाड़ी है। बॉल टैंपरिंग विवाद के बाद ऑस्‍ट्रेलियाई टीम की ये पहली बड़ी जीत है। जिसके कारण लैंगर के लिए ये इंज्‍वाय करने के पल से ज्‍यादा राहत देने वाला पल रहा।

लैंगर ने कहा, “मोहम्‍मद शमी जब आक्रमक गेंदबाजी कर रहे थे तो मैं उसे लेकर काफी नर्वस था। मैं सोच रहा था कि हमें यहीं पारी घोषित कर देनी चाहिए। मैं नहीं चाहता था कि नाथन लियोन और किसी अन्‍य गेंदबाज को चोट लगे।”

trending this week