दक्षिण अफ्रीका में आयोजित आईसीसी अंडर-19 क्रिकेट वर्ल्ड कप के फाइनल में बांग्लादेश ने रविवार को भारत को बारिश से प्रभावित मैच में डकवर्थ लुइस नियम के तहत 3 विकेट से हराकर उसके रिकॉर्ड 5वीं बार चैंपियन बनने का सपना तोड़ दिया. बांग्लादेश की टीम किसी भी स्तर पर पहली बार वर्ल्ड चैंपियन बनी है. खिताबी मुकाबले में गेंदबाजों की अनुशासित गेंदबाजी की बदौलत बांग्लादेश ने भारतीय बल्लेबाजों को खुलकर खेलने की आजादी नहीं दी नतीजतन प्रियम गर्ग की कप्तानी वाली टीम इंडिया 50 ओवर भी नहीं खेल पाई और 177 रन पर ढेर हो गई.

कपिल देव बोले- जोश में होश गंवा बैठी भारतीय टीम, खेल से ज्‍यादा लड़ने पर था ध्‍यान

खिताब बचाने में असफल रही टीम इंडिया के कई खिलाड़ियों के लिए ये टूर्नामेंट शानदार रहा. 18 वर्षीय विकेटकीपर बल्लेबाज ध्रुव जुरेल की विकेट के पीछे बिजली सी तेजी इस समय सोशल मीडिया में चर्चा का विषय बनी हुई है.

जुरेल ने अंडर-19 वर्ल्ड कप के फाइनल में बांग्लादेश के खिलाफ गजब की स्टंपिंग की. उन्होंने 17वें ओवर में स्पिनर रवि बिश्नोई की फ्लाइटेड गेंद पर शहादत हुसैन को बहुत कम समय में स्टंप आउट किया जिसके बाद उनकी तुलना भारत के पूर्व कप्तान ms dhoni से होने लगी है.

VIDEO: कप्तान अकबर अली ने साथी खिलाड़ियों की आक्रमकता पर जताया खेद, बोले- जो हुआ वह…

बिश्नोई के ओवर की पहली गेंद पर शहादत ने गेंद को छोड़ने का फैसला किया लेकिन गेंद बल्ले का अंदरुनी किनारा लेकर लुढ़कती हुई जुरेल के पास पहुंची और जुरेल ने समय जाया नहीं करते हुए उन्हें एक हाथ से गेंद को संभालते हुए स्टंप आउट कर दिया. जुरेल ने जब स्टंप किया उस समय शहादत का पैर क्रीज से बाहर था.

https://www.facebook.com/cricketworldcup/videos/179709753339472/

जुरेल के इस बिजली सी तेजी को देख सोशल मीडिया टिवटर पर उनकी तुलना महेंद्र सिंह धोनी से होने लगी जिन्हें पूरे करियर के दौरान एक बेहत चुस्त और फुर्तीला विकेटकीपर के रूप में जाना जाता रहा है.

उत्तर प्रदेश के जुरेल ने खिताबी मुकाबले में 38 गेंदों पर 22 रन बनाए जिसमें एक चौका शामिल रहा. भारत को इेे स टूर्नामेंट में खिताबी मुकाबले में पहली बार हार का सामना करना पड़ा। इससे पहले उसने लगातार 5 मुकाबले जीतकर खिताबी मुकाबले में प्रवेश किया था.