ऑस्ट्रेलिया के ऑलराउंडर ग्लेन मैक्सवेल (Glenn Maxwell) का बल्ला आईपीएल 2020 में अब तक खामोश रहा है.  लंबे लंबे छक्के लगाने वाले मैक्सवेल इस सीजन किंग्स इलेवन पंजाब (Kings XI Punjab) की ओर से खेल रहे हैं.  सनराइजर्स हैदराबाद (Sunrisers Hyderabad) के खिलाफ शनिवार को खेले गए आईपीएल (IPL 2020) के 43वें मैच में मैक्सवेल ने 13 गेंदों पर 12 रन की पारी खेली जो उनकी ख्याति के विपरीत थी.

फटाफट रन बटोरने और अकेले अपने दम पर मैच का रुख बदलने के लिए मशहूर मैक्सवेल इस सीजन में 11 मैचों में अब तक सिर्फ 102 रन ही बना पाए हैं.  आईपीएल इतिहास में बड़े-बड़े छक्के लगाने वाले मैक्सवेल के बल्ले से इस सीजन में अब तक एक भी छक्का नहीं निकला है.

मैक्सवेल की जो छवि है, उसे देखते हुए किंग्स इलेवन प्रबंधन ने उन्हें प्लेइंग इलेवन से अब तक बाहर नहीं किया है.  इस सीजन में उनका अब तक का सर्वोच्च योग 32 रन रहा है, जो उन्होंने दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ बनाए थे.

100 गेंदों में बनाए सिर्फ 102 रन 

मौजूदा सीजन की बात करें तो मैक्सवेल ने दिल्ली के खिलाफ एक और मैच में 1, आरसीबी के खिलाफ 5, राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ नाबाद 13, मुम्बई इंडियंस के खिलाफ 11, चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ नाबाद 11, सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ पहले मैच में सात, कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ नाबाद 10, मुम्बई इडिंयस के खिलाफ दूसरे मैच में शून्य और सनराइजर्स के खिलाफ शनिवार को 12 रन बनाए.

मैक्सलेव ने इस सीजन में कुल 100 गेंदें खेली हैं.  मौजूदा सीजन में राजस्थान रॉयल्स की ओर से खेल रहे बेन स्टोक्स ने 103 गेंद खेलने के बावजूद कोई छक्का नहीं लगाया है.  स्टोक्स के बाद मैक्सवेल का नंबर आता है.

किंग्स इलेवन पंजाब ने मैक्सवेल को पिछले साल आईपीएल की नीलामी में 10 करोड़ 75 लाख की भारी भरकम रकम में खरीदा था.