×

लगातार 154 टेस्ट मैच खेलकर एलिस्टर कुक ने बनाया अद्भुत रिकॉर्ड

कुक ने पाकिस्तान के खिलाफ खेले जा रहे दो टेस्ट मैचों की सीरीज के दूसरे टेस्ट में यह रिकॉर्ड अपने नाम किया। कुक ने ऑस्ट्रेलिया बॉर्डर के 153 टेस्ट मैच के रिकॉर्ड को तोड़ा।

Alastair Cook © Getty Images

इंग्लैंड क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान एलिस्टर कुक लगातार सबसे ज्यादा टेस्ट क्रिकेट खेलने वाले खिलाड़ी बन गए हैं। कुक ने पाकिस्तान के खिलाफ खेले जा रहे दो टेस्ट मैचों की सीरीज के दूसरे टेस्ट में यह रिकॉर्ड अपने नाम किया। उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के एलन बॉर्डर के 153 टेस्ट मैच के रिकॉर्ड को तोड़ा।

[link-to-post url=”https://www.cricketcountry.com/hi/news/steve-smith-will-donate-his-global-t20-canada-league-earnings-717487″][/link-to-post]

लीड्स टेस्ट में कुक ने मैदान पर कदम रखते ही इस शानदार उपलब्धि को अपने नाम कर लिया। कुक अब दुनिया के एकलौते ऐसे क्रिकेटर बन गए हैं जिन्होंने बिना मैच गंवाए 154 टेस्ट खेला है। कुक ने ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान एलन बॉर्डर के रिकॉर्ड को पीछे छोड़ा जिन्होंने 1979 से 1994 तक अपने देश की तरफ से लगातार 153 टेस्ट मैच खेले थे।

कुक ने भारत के खिलाफ 2006 में किया था डेब्यू

कुक ने भारत के खिलाफ नागपुर में एक से पांच मार्च 2006 के बीच खेले गये मैच से टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू किया था और उस मैच में शतक भी जड़ा था लेकिन बीमार होने के बाद वह सीरीज के आखिरी टेस्ट मैच में नहीं खेल पाये थे। कुक ने इसके बाद हालांकि इंग्लैंड की तरफ से प्रत्येक टेस्ट मैच खेला।

उनके नाम पर हेडिंग्ले टेस्ट शुरू होने से पहले तक 155 मैचों में 12099 रन दर्ज थे जिसमें 32 शतक भी शामिल हैं। बोर्डर ने जब अपना 153वां टेस्ट मैच खेला था तब वह 38 साल के थे जबकि कुक अभी 33 साल के हैं। लार्ड्स टेस्ट मैच में कुक ने पहली पारी में 70 रन बनाये लेकिन दूसरी पारी में वह केवल एक रन बनाकर आउट हो गये थे। पाकिस्तान ने यह टेस्ट नौ विकेट से जीतकर दो मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त बनाई।

दिग्गजों को कुक ने छोड़ा पीछे

लगातार टेस्ट मैच खेलने के रिकॉर्ड के मामले में कुक और बोर्डर के बाद ऑस्ट्रेलिया के मार्क वॉ (107), भारतीय दिग्गज सुनील गावस्कर (106) और न्यूजीलैंड के ब्रैंडन मैकुलम (101) का नंबर आता है। मैकुलम अपने करियर में डेब्यू के बाद संन्यास लेने तक कभी किसी टेस्ट मैच से बाहर नहीं रहे। इसी तरह से एडम गिलक्रिस्ट ने भी अपने डेब्यू के बाद लगातार 96 टेस्ट मैच खेलकर क्रिकेट के इस प्रारूप को अलविदा कहा।

trending this week