live cricket score, live score, live score cricket, india vs england live, india vs england live score, ind vs england live cricket score, india vs england 3rd test match live, india vs england 3rd test live, cricket live score, cricket score, cricket, live cricket streaming, live cricket video, live cricket, cricket live mohali
26 नवंबर से शुरू हो रहा है मोहाली टेस्ट। © Getty Images

भारतीय टीम के कोच अनिल कुंबले ने आखिरकार पार्थिव पटेल के सिलेक्शन पर उठ रहे सवालों के जवाब दिए हैं। टीम इंडिया के विकेटकीपर रिद्धिमान साहा के चोटिल होने के बाद पार्थिव पटेल को आठ साल बाद टेस्ट टीम में जगह दी गई। पार्थिव के सिलेक्शन को लेकर जहां एक तरफ उनके फैन्स काफी खुश हैं वहीं कई लोग इस बात से हैरान हैं कि किसी युवा खिलाड़ी को मौका क्यों नहीं दिया गया। मोहाली टेस्ट से पहले मीडिया से बात करते हुए कुंबले ने पार्थिव का काफी तारीफ भी की। ये भी पढ़ें: गेंद से छेड़छाड़ के मामले में क्यों नहीं हो सकती विराट कोहली को सजा

कुंबले ने कहा, ” पार्थिव एक बढ़िया बल्लेबाज और कीपर हैं। उन्हें उनके अनुभव और अच्छी कीपरिंग की वजह से ही टीम में लिया गया है। हमें अनुभव की ही जरूरत थी। रिषभ पंत ने यह साबित किया है कि एक युवा बल्लेबाज अपनी बल्लेबाजी को कितना निखार सकता है। वह काफी अच्छा खेल रहे हैं लेकिन पार्थिव को उनके अनुभव की वजह से जगह दी गई है। वहीं इस समय दिनेश कार्तिक तमिलनाडू के लिए कीपरिंग नहीं कर रहे हैं, मुझे नहीं पता ऐसा क्यों है। ऐसे में नतीजा आपके सामने है।” वहीं कुंबले ने विराट कोहली पर ब्रिटिश अखबार द्वारा लगाए बॉल-टेंपरिंग के आरोप पर भी बात की। कुंबले ने इस मामले को बेवजह का बताया, उन्होंने कहा, “इस बात को लेकर बिना बात के ही राई का पहाड़ बनाया जा रहा है। इस आरोप में कोई सच्चाई नहीं है।” आपको बता दें कि हाल ही में एक ब्रिटिश अखबार ने कोहली पर आरोप लगाया है कि राजकोट टेस्ट के दौरान कोहली ने गेंद पर गम जैसी कोई चीज लगाई थी। ये भी पढ़ें: क्या केवल अनुभव के कारण पार्थिव पटेल को टेस्ट टीम में जगह देना सही?

कुंबले ने मोहाली की पिच को गेंदबाजों के लिए मददगार बताया। कुंबले ने कहा, “मोहाली की पिच पहले के मुकाबले थोड़ी ज्यादा धीमी हो गई है। गेंदबाजों का प्रदर्शन बेहतरीन रहा है, उन्होंने दो टेस्ट मैचों में 200 से भी ज्यादा ओवर डाले हैं।” भारतीय टीम पहले से 1-0 की बढ़त पर है ऐसे में इंग्लैंड इस बार सीरीज में वापसी करने की पूरी कोशिश करेगी।