कप्तान महेंद्र सिंह धोनी © Getty Images
कप्तान महेंद्र सिंह धोनी © Getty Images

भारतीय क्रिकेट टीम ने रविवार को बांग्लादेश को आठ विकेट से हराकर रिकार्ड छठवीं बार एशिया कप का खिताब अपने नाम किया। जीत के बाद भारतीय कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी ने कहा कि आने वाले टी-20 विश्व कप के लिहाज से यह जीत टीम के लिए काफी अहम है। धोनी ने आलोचकों को भी आड़े हाथों लेते हुए कहा कि जीत के बाद हमारे आलोचकों के पास भी बोलने के लिए कुछ नहीं है। मैच के बाद धोनी ने कहा, “भारत की जीत से ज्यादा बड़ी खबर भारत की हार होती। अगर आप जीतते हो तो आलोचक ज्यादा कुछ नहीं कहते, लेकिन आप बांग्लादेश से हारते हो तो वह कहते हैं कि आप बांगलादेश से कैसे हार गए।” ये भी पढ़ें: टेस्ट क्रिकेट में 400 रन बनाना चाहता था: वीरेन्द्र सहवाग

उन्होंने कहा, “आप से जीतने की उम्मीद की जाती है। यह ऐसा मैच होता है जिस पर काफी कुछ दाव पर लगा रहता है।” धोनी ने हालांकि बांग्लादेश टीम की तारीफ भी की। उन्होंने कहा कि बांग्लादेश की टीम ने काफी सुधार किया है। यह पहले वाली टीम नहीं रही। उन्होंने कहा, “बांग्लादेश की टीम अब 2004 वाली टीम नहीं रही। उनके पास अब काफी अच्छी टीम है। उन्होंने काफी सुधार किया है जो मैदान पर दिखता है।” ये भी पढ़ें: भारतीय टीम ने एशिया कप किया अपने नाम, ये रहे टीम इंडिया के जीत के चार बड़े कारण

एशिया कप के बाद भारतीय टीम को घर में टी-20 विश्व कप खेलना है। टीम खिताब की प्रबल दावेदार मानी जा रही है। धोनी ने कहा है कि अब हमारा ध्यान विश्व कप पर है। टीम एशिया कप जीत अच्छे मनोबल के साथ विश्व कप में उतरेगी।

धोनी ने कहा, “टीम का ध्यान अब टी-20 विश्व कप पर है। अगर आप टीम के प्रदर्शन को देखेंगे तो टीम यहां से विश्व कप में आत्मविश्वास के साथ उतरेगी। हम जानते हैं कि हमारा मजबूत पक्ष क्या है।” धोनी टीम के प्रदर्शन से काफी प्रभावित दिखे। उन्होंने हालांकि कहा कि मोहम्मद समी के चोट से उबरने का इंतजार है। अगर समी फिट हो जाते हैं तो नेहरा को अंतिम एकादश से बाहर बैठना पड़ सकता है।

धोनी ने कहा, “समी फिट होते हैं या नहीं यह देखने वाली बात है। अगर वह फिट हो जाते हैं तो वह नेहरा का स्थान लेंगे। नेहरा की जगह ही समी टीम में आ सकते हैं। यह काफी मुश्किल होगा क्योंकि नेहरा ने काफी शानदार प्रदर्शन किया है।”