भारत ए के खिलाफ 6 दिसंबर से शुरू होने वाले अभ्यास मैच में ऑस्ट्रेलिया ए टीम की कप्तानी करने वाले ट्रेविस हेड (Travis Head) का कहना है कि वो भारत के ‘अविश्वसनीय’ गेंदबाजी अटैक के खिलाफ अपने कौशल का परीक्षण करना चाहेंगे और रविवार से शुरू होने वाले पहले अभ्यास मैच में उन्हें दबाव में डालने की कोशिश करेंगे।

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 17 दिसंबर से शुरु होने वाली चार मैचों की टेस्ट सीरीज से पहले ऑस्ट्रेलिया ‘ए’ टीम भारत ‘ए’ के खिलाफ दो अभ्यास मैच खेलेगी जिसमें टेस्ट स्पेशलिस्ट मैदान पर उतरेंगे। भारत के खिलाफ 2018 टेस्ट सीरीज में राष्ट्रीय टीम का हिस्सा रहे हेड पहले अभ्यास मैच में ऑस्ट्रेलिया ए का नेतृत्व करेंगे।

हेड ने सोनी नेटवर्क के द्वारा आयोजित ऑनलाइन संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘पिछली सीरीज की यादों और चीजें के बारे में सोच कर अच्छा लगता है, लेकिन उनका गेंदबाजी अटैक अविश्वसनीय है और सभी अच्छे से एक दूसरे का समर्थन करते है। आपको नई गेंद का सामना करने के बाद मोहम्मद शमी जैसे गेंदबाज को खेलना होता है और उनकी लाइन-लेंग्थ बेहतरीन है। आप ढिलाई नहीं बरत सकते, आपको हर गेंदबाज का सामना सतर्कता से करना होगा।’’

उन्होंने कहा, ‘‘टेस्ट क्रिकेट में आप ऐसा ही उम्मीद करते है लेकिन उस तरह की गेंदबाजी के खिलाफ वो (2018 सीरीज) मेरा पहला अनुभव था। आपको हमेशा शत-प्रतिशत सतर्क रहना होगा। मैं टेस्ट सीरीज के शुरू होने का फिर से इंतजार कर रहा हूं, जहां हमारे पास अच्छा मौका होगा।’’

सीरीज का पहला टेस्ट 17 दिसंबर से दिन-रात्रि में खेला जाएगा। दौरे का दूसरा अभ्यास मैच 11 दिसंबर से होगा, जिसे गुलाबी गेंद से खेला जाएगा। हेड ने कहा, ‘‘यह दोनों (अभ्यास) मैच हमारे लिए काफी अहम है। ये सिर्फ ऑस्ट्रेलिया ए के लिए अहम नहीं है बल्कि ऑस्ट्रेलियाई टीम के लिए भी काफी जरूरी है। हम अच्छा खेल कर भारत को दबाव में लाने की कोशिश करेंगे। मैं मैच शुरु होने का इंतजार कर रहा हूं। मुझे लगता है कि मैंने नेट सत्र में काफी अभ्यास किया है और मैं थका नहीं हूं, मैं तरोताजा हूं।’’