ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ गाबा टेस्ट के तीसरे दिन टीम इंडिया ने लंच तक चार विकेट पर 161 रन बनाए। पहला सेशन खत्म होने के बाद टीम इंडिया 208 रनों से पीछे चल रही है और मयंक अग्रवाल (Mayank Agarwal), रिषभ पंत (Rishabh Pant) क्रीज पर टिके हुए हैं।

दिन के पहले सेशन का खेल कप्तान अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) और चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) ने कल के स्कोर 62/2 के साथ किया था। लेकिन पुजारा (25) जहां जॉश हेजलवुड की गेंद पर टिम पेन के हाथों कैच आउट हुए, वहीं कप्तान रहाणे (37) लंच से कुछ देर पहले मिशेल स्टार्क की गेंद पर विकेट गंवा बैठे। लंच आधा घंटा देर से लिया गया तथा उस समय अग्रवाल 38 और पंत चार रन पर खेल रहे थे।

भारत ने सुबह दो विकेट पर 62 रन से आगे खेलना शुरू किया और इस तरह से पहले सेशन में 99 रन जोड़े। पुजारा और रहाणे ने दृढ़ इरादों के साथ शुरुआत की और पहले घंटे में ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों को कोई मौका नहीं दिया।

ऐसे समय में हेजलवुड की हल्का कोण लेती गेंद पुजारा के बल्ले को चूमकर विकेटकीपर टिम पेन के दस्तानों में समा गयी। वर्तमान श्रृंखला में पहले भी कुछ अवसरों पर पुजारा को इस तरह के गेंदों पर अपना विकेट गंवाना पड़ा था और आज भी उनके पास हेजलवुड की गेंद का कोई जवाब नहीं था। उन्होंने 94 गेंदें खेली और दो चौके लगाये।

स्टार्क का नया स्पैल प्रभावशाली रहा। रहाणे के लिये उन्होंने चौथी स्लिप भी लगायी। उनकी यह रणनीति कारगर साबित हुई और ऑफ स्टंप से बाहर जाती गेंद भारतीय कप्तान के बल्ले का किनारा लेकर स्लिप में मैथ्यू वेड के पास चली गयी। रहाणे की 93 गेंद की पारी में तीन चौके शामिल हैं।

तीसरे टेस्ट में बाहर रहने के बाद मध्यक्रम के बल्लेबाज के रूप में उतरे अग्रवाल ने मजबूत इरादों के साथ बल्लेबाजी की। क्रीज पर समय बिताने के साथ उनके शॉट में आत्मविश्वास साफ झलक रहा था।