Can’t just master yorker, continuous practice is  necessary: Jasprit Bumrah
जसप्रीत बुमराह (IANS)

बांग्लादेश के खिलाफ मंगलवार को हुए विश्व कप के मैच में मिली 28 रनों की जीत में तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने अहम भूमिका निभाते हुए कुल चार विकेट लिए। बुमराह ने मुकाबले में अपने यॉर्कर का भी इस्तेमाल किया और मैच के बाद कहा कि इस कला पर महारत हासिल नहीं की जा सकती और आपको लगातार काम करना होगा।

मैच के बाद बुमराह ने कहा, “बहुत मेहनत करने की जरूरत पड़ती है। मैं हमेशा यही कहता हूं। मैं जब भी नेट में अभ्यास करता हूं तो मैं हर स्थिति के लिए तैयारी करता हूं चाहे वो नई गेंद हो या पुरानी या डेथ ओवरों में गेंदबाजी करना हो। मैं नेट में हर चीज के लिए तैयारी करता हूं और मैच में मुझे अपना दिमाग साफ रखते हुए उन चीजों को अमल में लाना होता है। अगर मेहनत की गई हो तो मैच में उन चीजों का आसानी से उपयोग किया जा सकता है।”

विराट कोहली ने माना-पांच गेंदबाजों को खिलाना खतरे से भरा दांव था

बुमराह ने कहा, “तैयारी ही सब कुछ है। आप जितनी ज्यादा तैयारी करते हैं यॉर्कर डालने में उतने ही अच्छे होते हैं। आप इसमें महारत हासिल नहीं कर सकते। आप इसमें लगातार बेहतर होने की कोशिश करते हैं, आपको इसे दोहराना होता है। यह किसी अन्य गेंद की तरह ही है, जैसे कि आपने बहुत लेंथ गेंद डाली हो। इसलिए आप लगातार अभ्यास करते हैं और मैच में उसे दोहराने का प्रयास करते हैं।”

टूर्नामेंट में भारत का अगला मैच शनिवार को बांग्लादेश के खिलाफ होगा।