चार्लोट एडवर्ड्स © Getty Images
चार्लोट एडवर्ड्स © Getty Images

इंग्लैंड की महिला क्रिकेट टीम की पूर्व कप्तान चार्लोट एडवर्ड्स ने पेशेवर क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर दी है। किया सुपर लीग में सदर्न वाइपर्स टीम को सफलतापूर्वक दूसरा स्थान दिलाने के बाद चार्लोट ने संन्यास की घोषणा की। 37 साल की चार्लोट ने बीते साल अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया था। भारत में आयोजित टी-20 विश्व कप में इंग्लैंड के खराब प्रदर्शन के बाद कप्तानी से हटाए जाने के बाद चार्लोट ने संन्यास की घोषणा की थी। 20 साल के अपने करियर में चार्लोट ने इंग्लैंड के लिए 23 टेस्ट, 191 वनडे और 95 टी-20 मैच खेले थे।

क्रिकइंफो से बातचीत में चार्लोट ने कहा, “मुझे लगता है कि मैं थोड़ा काउंटी क्रिकेट खेलूंगी लेकिन प्रतिद्वंदी और अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट बस यहीं तक था। मैं कोचिंग जैसे दूसरे कामों की तरफ ध्यान देना चाहती हूं, शायद मैं मीडिया में भी काम करूं। मैं अपने करियर से काफी खुश हूं और मैने इसके हर एक पल का आनंद लिया है।” चार्लोट की कप्तानी में इंग्लैंड ने विश्व कप भी जीता है। अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद चार्लोट बीबीसी और स्काई स्पोर्ट्स के लिए कमेंट्री करती हैं। [ये भी पढ़ें: श्रीलंका का सूपड़ा साफ करने के उद्देश्य से उतरेगी टीम इंडिया]

चार्लोट अब युवा खिलाड़ियों को तैयार करना चाहती हैं। इस बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा, “कोचिंग को लेकर अभी तक कुछ भी निश्चित नहीं हुआ है। मैने ईसीबी से जूनियर स्तर के खिलाड़ियों के साथ काम करने की बात की है, उम्मीद है कि इससे इंग्लैंड की कई युवा प्रतिभाओं को मदद मिलेगी। मैं युवाओं के साथ ईर्ष्या नहीं रखती हूं, मुझे उम्मीद करती हूं कि उन्हें कई मौके मिलें। यह महिला क्रिकेट में शामिल होने का शानदार समय है और उम्मीद है कि इस देश में खेल बढ़ना जारी रहेगा।”