David Warner को आईपीएल-2021 में सनराइजर्स हैदराबाद ने पूरी तरह से दरकिनार किया था. पहले लेग के दौरान उनसे टीम की कप्तानी छीन ली गई, जिसके बाद दूसरे लेग में उन्हें प्लेइंग इलेवन से बाहर रखा गया. टी20 विश्व कप-2021 में डेविड वॉर्नर ने अपने आलोचकों को करारा जवाब दिया. इस विस्फोटक बल्लेबाज ने 7 पारियों में 48.16 के औसत से 289 रन बनाए. वॉर्नर टूर्नामेंट में सर्वाधिक रन बनाने वाले दूसरे बल्लेबाज रहे.

डेविड वॉर्नर ने श्रीलंका के खिलाफ 65 रन की पारी खेली. वेस्टइंडीज के विरुद्ध 89 रन बनाए, जबकि सेमीफाइनल मुकाबले में 49 रन टीम के खाते में जोड़े. खिताबी मुकाबले में डेविड वॉर्नर ने 38 गेंदों में 3 छक्कों और 4 चौकों की मदद से 53 रन की पारी खेली, जिसने ऑस्ट्रेलिया को मजबूत शुरुआत दिलाई.

गावस्कर ने एक टीवी चैनल के साथ बातचीत में कहा, “निश्चित रूप से (मांग किए गए खिलाड़ियों में से वह एक होंगे). यह मत भूलें कि दो नई टीमें भी हैं। उनके पास अनुभव है, उनमें नेतृत्व के गुण भी हैं. वह मैदान पर बहुत ऊजार्वान होते हैं. वह निश्चित रूप से दो नई टीमों या किसी अन्य टीम द्वारा वांछित लोगों में शीर्ष पर होंगे, क्योंकि ऐसा नहीं लगता कि सनराइजर्स उन्हें बरकरार रखने जा रही है.”

ऐसी जानकारी सामने आई थी कि आईपीएल-2021 के आखिरी कुछ लीग खेलों में बेहतर प्रदर्शन से पहले वॉर्नर को यूएई के स्टेडियमों में टीम के साथ जाने की अनुमति नहीं थी. इस पर पूर्व भारतीय कप्तान ने कहा, “ईमानदारी से कहूं तो इस बारे में कुछ कहना थोड़ा मुश्किल है. उन्हें होटल में बैठा दिया गया, जबकि कुछ सामान्य खिलाड़ी जो प्लेइंग इलेवन में भी नहीं आने लायक थे, मैदान पर थे.. फॉर्म की कमी के अलावा और भी बहुत कुछ रहा होगा.”

गावस्कर ने कहा, “जहां तक ऑस्ट्रेलिया का सवाल है, मुझे लगता है कि वे शायद कह रहे हैं कि इस विश्व कप में हमने जो प्रदर्शन देखा है, उसके लिए इस तरह की चीज की जरूरत थी.”