कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) की टीम शनिवार को जब गुजरात टाइटन्स (GT) से भिड़ेगी तो वह यहां हर हाल में अपनी हार का सिलसिला तोड़ने को बेकरार होगी. हालांकि गुजरात टीम इस समय लीग की सबसे सॉलिड टीम दिख रही है, जो अब तक 6 मैच खेलकर सिर्फ एक में ही हारी है. दूसरी ओर कोलकाता नाइट राइडर्स के हिस्से में जीत से ज्यादा अब हार आई हैं. उसने अब तक खेले 7 मुकाबलों में से 4 गंवाए हैं, जबकि 3 में उसे जीत मिली है. बड़ी बात यह है कि वह पिछले तीन मुकाबलों में लगातार हारी है. ऐसे में वह गुजरात को पटखनी देकर अपना मनोबल ऊंचा उठाना चाहेगी.

हालांकि गुजरात टाइटन्स की लय देखकर पूर्व चैंपियन नाइट राइडर्स के लिए यह काम आसान नहीं होगा. हार्दिक पंड्या (Hardik Pandya) की अगुवाई वाली गुजरात टाइटंस (GT) अपनी बल्लेबाजी और गेंदबाजी दोनों विभागों में दमदार प्रदर्शन कर रही है. चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) के खिलाफ पिछले मैच में चोटिल हार्दिक की गैरमौजूदगी में भी गुजरात ने जीत दर्ज की.

इस मुकाबले में डेविड मिलर (94*) और कार्यवाहक कप्तान राशिद खान (40) ने टीम के लिए दमदार बल्लेबाजी की. राशिद ने मैच के बाद कहा था कि हार्दिक की चोट गंभीर नहीं है. हरफनमौला पंड्या बल्ले से शानदार लय में है. उन्होंने इस दौरान पांच पारियों में 76 के औसत से 228 रन बनाए हैं. राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ पिछले मैच में केकेआर की गेंदबाजी के खिलाफ खूब रन बने थे.

उमेश यादव, पैट कमिंस और स्पिनर वरुण चक्रवर्ती (दो ओवर में 30 रन) ने खूब रन लुटाए थे. यह देखना दिलचस्प होगा कि क्या टीम में टिम साउदी की वापसी होगी क्योंकि केकेआर के गेंदबाज शुरुआती ओवरों में विकेट लेने में जूझ रहे है. टीम के सबसे पुराने खिलाड़ियों में से एक सुनील नारायण एक बार फिर अपना प्रभाव छोड़ रहे हैं. उन्होंने सात मैचों में 5.03 की औसत से रन खर्च किए हैं लेकिन उन्हें दूसरे छोर से अच्छा साथ नहीं मिल पा रहा है.

इस मैच में केकेआर के पूर्व खिलाड़ी शुभमन गिल और नारायण की अच्छी भिड़ंत देखने को मिल सकती है. गिल ने इस सत्र में दो बड़ी पारियां (दिल्ली के खिलाफ 84 और पंजाब के खिलाफ 96 रन) खेली है लेकिन दोनो बार शतक से चूक गए.

गुजरात टाइटंस की गेंदबाजी मजबूत है जिसमें न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज लॉकी फर्ग्यूसन, भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी के अलावा अफगानिस्तान के स्पिनर राशिद खान के पास विकेट लेने के साथ रन गति रोकने की क्षमता है.