Sri Lanka vs India, 3rd T20I: श्रीलंका ने 29 जुलाई को कोलंबो (R.Premadasa Stadium, Colombo) में खेले गए तीसरे और अंतिम टी20 मैच में 7 विकेट से बड़ी जीत दर्ज की. इसी के साथ मेजबान टीम ने सीरीज 2-1 से अपने नाम कर ली. इस मुकाबले में भारत ने इस मुकाबले में चोटिल नवदीप सैनी (Navdeep Saini) की जगह संदीप वॉरियर (Sandeep Warrier) को एकदाश में शामिल किया गया, जिसके साथ उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय डेब्यू भी किया.

देश के लिए खेलना किसी भी खिलाड़ी का बड़ा सपना होता है. ऐसा ही कुछ संदीप वॉरियर के साथ भी था. जब संदीप को कैप सौंपी गई, तो उनकी आंखों में आंसू आ गए. खिलाड़ियों को गले लगाते हुए वह अपने आंसू पोछते नजर आए, जिसका वीडियो खुद बीसीसीआई ने अपने ट्विटर हैंडल पर साझा किया है.

पहले बल्लेबाजी करते हुए भारतीय टीम निर्धारित ओवरों में 8 विकेट खोकर महज 81 रन ही बना सकी. टीम इंडिया की तरफ से कुलदीप यादव ने 28 गेंदों पर सर्वाधिक 23 रन बनाए. इसके जवाब में मेजबानों श्रीलंका ने ने जीत के लिए जरूरी रन 14.3 ओवरों में तीन विकेट के नुकसान पर हासिल कर लिए. अविष्का फर्नांडो ने 12, मिनोद भानुका ने 18, धनंजय डिसिल्वा ने नाबाद 23 और वानिंदु हसारंगा ने नाबाद 14 रन बनाए. भारत की ओर से राहुल चाहर ने तीन विकेट लिए. इस मैच में वॉरियर को 3 ओवर गेंदबाजी का मौका मिला, जिसमें उन्होंने 23 रन दिए, लेकिन कोई सफलता हासिल नहीं कर सके.

भारतीय टीम अपने न्यूनतम स्कोर पर आउट हो जाती लेकिन कुलदीप 11 ओवर तक क्रीज पर जमे रहे. इससे भारत पूरे 20 ओवर खेलने और अपने न्यूनतम स्कोर (74 रन, बनाम ऑस्ट्रेलिया, 2008) को पार करने में सफल रहा. भारत का यह पूरे 20 ओवर खेलने के बाद टी20 में न्यूनतम स्कोर है. भारत की तरफ से केवल चार चौके लगे. श्रीलंका की भारत के खिलाफ आठ टी20 द्विपक्षीय शृंखलाओं में यह पहली जीत है. यही नहीं उसने भारत के खिलाफ 2008 के बाद किसी भी प्रारूप में पहली सीरीज जीती.