ऑस्ट्रेलिया ने न्यूजीलैंड को हराकर पहली बार टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup 2021) खिताब पर अपना कब्जा जमा लिया है. न्यूजीलैंड ने इस मैच में कप्तान (Kane Williamson) केन विलियमसन (85) की बेहतरीन पारी के दम पर 173 रनों की चुनौती दी थी. कंगारुओं ने (Mitchell Marsh) मिशेल मार्श (77*) और (David Warner) डेविड वॉर्नर (53) की पारियों के दम पर इस लक्ष्य को 8 विकेट से अपने नाम कर लिया. इस मैच के बाद कप्तान केन विलियमसन ने कहा ने कंगारू टीम ने उनकी टीम को वापसी का इंच भर भी मौका नहीं दिया.

दो साल पहले वनडे वर्ल्ड कप फाइनल में इंग्लैंड से हारी कीवी टीम के कप्तान ने कहा, ‘हमें लगा कि यह स्कोर अच्छा है लेकिन ऑस्ट्रेलिया ने बखूबी उसका पीछा किया. वह शानदार टीम है और पूरे टूर्नामेंट में उसने यादगार प्रदर्शन किया.’

यह पूछने पर कि क्या यह स्कोर पर्याप्त था, उन्होंने कहा, ‘कह नहीं सकते. हमें ऐसा ही लगा था. हम ज्यादा पीछे नहीं थे लेकिन ऑस्ट्रेलिया ने हमें कोई मौका नहीं दिया. इसके बावजूद मुझे टीम के प्रदर्शन पर गर्व है.’

उन्होंने कहा, ‘हमने जो टोटल सोचा था, उसे बोर्ड पर टांगा भी और हम इसे प्रतिस्पर्धी टोटल समझ रहे थे. हमारे खिलाड़ियों ने अपनी प्लानिंग को अंजाम देने की भरसक कोशिशें कीं लेकिन ऑस्ट्रेलिया ने हमें इंच भर भी मौका नहीं दिया.’

कीवी कैप्टन ने कहा, ‘हम फाइनल तक पहुंचे, अपना सब कुछ दिया लेकिन यह खिताब जीतने के लिए काफी नहीं था. यहां (UAE में) मैदान दर मैदान परिस्थितियों में काफी भिन्नताएं हैं और हमने उनके लिहाज से खुद को बखूबी ढाला. हार और जीत खेल के दो संभव परिणाम हैं.’

बता दें न्यूजीलैंड की टीम भी पहली बार टी20 विश्व कप के फाइनल में पहुंची थी अगर वह यहां जीत दर्ज करती तो उसके पास भी पहली बार टी20 विश्व चैंपियन बनने का मौका था.

हालांकि यह टीम साल 2015 से ही शानदार खेल दिखा रही है. उसने बीते 6 सालों में वनडे वर्ल्ड कप के दो और टी20 वर्ल्ड कप का एक फाइनल खेला है. इसके अलावा इस साल पहली बार खेले गए वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में भारत को हराकर यह खिताब भी अपने नाम किया है.