The Hundred League: इंग्‍लैंड की द हंड्रेड लीग के मुकाबले में (Birmingham Phoenix Women vs Welsh Fire Women) भारतीय महिला टीम की विस्‍फोटक बल्‍लेबाज शेफाली वर्मा (Shafali Verma) का आतंक देखने को मिला. वर्मा ने 180 से अधिक की स्‍ट्राइकरेट से बल्‍लेबाजी करते हुए अपनी टीम को 10 विकेट से एकतरफा जीत दिलाई.

शेफाली वर्मा ने अपनी टीम बर्मिंघम फीनिक्‍स के लिए खेलते हुए महज 22 गेंदो पर अर्धशतक ठोक दिया. वो इसके बाद भी नहीं रुकी और तेजी से रन बनाने का सिलसिला आगे भी जारी रहा. वर्मा ने अपनी पारी में नौ चौके और दो छक्‍के लगाए. शेफाली वर्मा ने मैच में 42 गेंदों पर 76 रनों की पारी खेली. शेफाली वर्मा के इस शानदार प्रदर्शन के दम पर बर्मिंघम की टीम को लगातार तीन हार के बाद अब जीत नसीब हुई है.

पहले बल्‍लेबाजी करते हुए वेल्‍श फायर की टीम ने निर्धारित 100 गेंदों पर नौ विकेट के नुकसान पर 127 रन बनाए. सलामी बल्‍लेबाज ब्रायोनी स्मिथ ने सर्वाधिक 38 रनों का योगदान‍ दिया. बर्मिंघम की टीम बल्‍लेबाजी के लिए आई तो शेफाली वर्मा (Shafali Verma) और उनकी साथी सलामी बल्‍लेबाज इवलिन जोन्‍स 52(35) मैदान में उतरी. दोनों ने पहली गेंद से ही विरोधी टीम पर प्रहार किया. 24 गेंद बाकी रहते ही शेफाली वर्मा की टीम ने मैच अपने नाम कर लिया.

मैच में शैफाली वर्मा और इवलिन जोन्‍स के बीच पहले विकेट के लिए 131 रनों की अटूट साझेदारी बनी. वर्मा भारतीय टीम में भी सलामी बल्‍लेबाज की भूमिका निभाती हैं. उनकी उम्र महज 17 साल की है। इतनी कम उम्र में इतनी प्रतिभावान खिलाड़ी होने के कारण वर्मा को भारतीय महिला क्रिकेट टीम का भविष्‍य भी माना जाता है.