ग्लेन मैक्ग्रा का मानना है कि टी20 लीग से मिलने वाला बहुत ज्यादा पैसा युवा खिलाड़ियों को मेहनत नहीं करने दे रहा © Getty Images
ग्लेन मैक्ग्रा का मानना है कि टी20 लीग से मिलने वाला बहुत ज्यादा पैसा खिलाड़ियों को मेहनत नहीं करने दे रहा © Getty Images

ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज तेज गेंदबाज ग्लेन मैक्ग्रा ने युवा तेज गेंदबाजों के भविष्य को लेकर चिंता व्यक्त की है। मैक्ग्रा का मानना है मौजूदा समय में तेज गेंदबाज ज्यादा मेहनत करने की बजाय टी20 लीग खेल कर पैसा कमाने की इच्छा ज्यादा रखते हैं, जिसकी वजह से उनका फोकस प्रेक्टिस की बजाय पैसा कमाने के ऊपर ज्यादा होता है। यही वजह है कि आजकल युवा गेंदबाज थोड़े समय तक अच्छा प्रदर्शन करने के बाद अपनी धार खो देते हैं। युवा गेंदबाजों को टिप्स देने के लिए भारत आए ग्लेन मैक्ग्रा ने इसके लिए टी20 में मिलने वाले अथाह पैसे को भी जिम्मेदारा ठहराया।

अपनी सटीक लाइन लेंथ के लिए मशहूर रहे मैक्ग्रा ने कहा कि मुझे भारत ही नहीं पूरी दुनिया के तेज गेंदबाजों के साथ जो मसला नजर आता है वो यह है कि वो कितनी मेहनत कर रहे हैं। खिलाड़ी आईपीएल और बिग बैश जैस टी20 लीग में थोड़ी सफलता हासिल करने के बाद ये सोचने लगते हैं कि वे उच्च स्तर को हासिल कर चुके हैं और वे प्रेक्टिस को तवज्जो देना छोड़ देते हैं और ज्यादा प्रेक्टिस भी नहीं करते।

मैक्ग्रा ने कहा कि युवा तेज गेंदबाजों को कड़ी मेहनत के लिए हमेशा तैयार रहना होगा और अपनी जगह बरकरार रखने के लिए और ज्यादा मेहनत करनी चाहिए। इसके लिए कोई शार्ट कट नहीं है। मैंने कई बार देखा है कि युवा क्रिकेटर एक खास मुकाम तक पहुंचते हैं तो अचानक उनको अच्छा पैसा मिलने लगता है और वो मेहनत करना बंद कर देते हैं।

दिग्गज तेज गेंदबाज ने आगे कहा कि पैसे को हमेशा प्राथमिकता नहीं देनी चाहिए। यह अच्छी बात है कि आजकल क्रिकेट खिलाड़ी अच्छी कमाई कर रहे हैं, लेकिन अगर आप पैसे को प्राथमिकता देने की बजाय अच्छे प्रदर्शन और कड़ी मेहनत को प्राथिमकता देंगे तो पैसा हमेशा आता रहेगा। मेरा मानना है कि एक क्रिकट खिलाड़ी की पहली प्राथमिकता हमेशा देश के लिए खेलना होना चाहिए।