England Played Fearless Cricket, So Did We: Virat Kohli
India captain Virat Kohli speaks to the media

भारतीय कप्तान विराट कोहली  ने कहा है कि उनके खिलाड़ियों ने इंग्लैंड के खिलाफ पांचवें और आखिरी टेस्ट मैच में निडर होकर अपना खेल खेला, लेकिन उनमें अभी अनुभव की कमी है। लोकेश राहुल (149) और रिषभ पंत (114) के बीच छठे विकेट के लिए हुई 204 रन की रिकॉर्ड साझेदारी के बावजूद भारत को इंग्लैंड के हाथों पांचवें और आखिरी टेस्ट मैच के पांचवें दिन 118 रन से हार का सामना करना पड़ा।

इसी के साथ इंग्लैंड ने सीरीज 4-1 के अंतर से जीत ली। कोहली ने मैच के बाद कहा, “हमारे पास टीम में योग्यता है और हमें केवल अनुभव चाहिए।”

उन्होंने राहुल और पंत के संघर्षों की सराहना करते हुए कहा कि दोनों बल्लेबाजों ने असंभव जीत की उम्मीद जताई थी, लेकिन टीम आखिर तक लड़ने के इच्छुक नहीं थी। कोहली ने कहा, “मुझे लगता है कि दोनों युवा खिलाड़ियों को अधिक श्रेय देना चाहिए। हमने जिस तरह का क्रिकेट खेला, वह शायद स्कोरकार्ड पर दिखाने लायक नहीं था।”

कप्तान ने कहा, “पंत ने अधिक साहस और प्रतिभा का प्रदर्शन किया। जब आप ऐसी परिस्थितियों में होते हैं तो आप परिणाम के बारे में नहीं सोचते। लेकिन चीजें आपके अनुकूल होती जाती है। मैं दोनों के प्रदर्शन खुश हूं और ये भारत के भविष्य हैं। हम इस मौके का लाभ नहीं उठा पाए।”

कोहली ने सीरीज में कुल 593 रन बनाए। उन्होंने कहा कि पांचों मैचों में अच्छे खासे दर्शक आए जो कि टेस्ट क्रिकेट के लिए काफी सकारात्मक बात है। उन्होंने कहा, “दोनों टीमें जानती है कि सीरीज काफी प्रतिस्पर्धी रही। यह टेस्ट क्रिकेट के लिए एक अच्छा है। इंग्लैंड एक अच्छी टीम है और हमने यह महसूस किया कि दो-तीन ओवर्स में खेल बदल गया।”

कोहली ने कहा, “इंग्लैंड ने भी ड्रॉ के लिए नहीं खेला। उन्होंने निडर क्रिकेट खेला। यही कारण है कि आपको ड्रॉ देखने को नहीं मिला।”

(एजेंसी न्यूज)