इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के बीच एजिस बॉल स्टेडियम में बुधवार से खेले जाने वाले 3 मैचों की सीरीज के पहले टेस्ट मैच में  बारिश की वजह से अब तक टॉस नहीं हो सका है. टॉस भारतीय समयानुसार दोपहर 3:00 बजे होना था.

पिछले 46 वर्षों में यह पहला मौका है जब 100 से अधिक दिन कोई इंटरनेशनल मैच नहीं खेला गया. कोरोना वायरस महामारी के बीच टेस्ट सीरीज भविष्य में क्रिकेट की दशा और दिशा भी तय करेगा.

क्रिकेट के सबसे पारंपरिक प्रारूप के जरिए खेल के नए युग का सूत्रपात होने जा रहा है . ऐसा युग जिसमें मैदान पर खिलाड़ियों में जोश भरने वाले दर्शक नहीं होंगे. खिलाड़ी गले नहीं मिल सकेंगे. हफ्ते में दो बार कोरोना जांच होगी और खिलाड़ी होटल से बाहर नहीं जा सकेंगे.

यह मार्च के बाद पहला टेस्ट मैच भी होगा. एजिस बाउल पर खेला जा रहा यह मैच सिर्फ क्रिकेट ही नहीं , उससे इतर भी कारणों से खेल की इतिहास पुस्तिका में दर्ज हो जाएगा.

दर्शकों के बिना , बार बार कोरोना वायरस जांच के बीच, सामाजिक दूरी के नियमों का पालन करते हुए होने वाले ये मैच भविष्य में मैचों और दौरों का ब्लूप्रिंट भी तैयार करेंगे.

वेस्टइंडीज ने 1988 के बाद से इंग्लैंड में टेस्ट श्रृंखला नहीं जीती है लेकिन पिछले साल कैरेबियाई सरजमीं पर हुई विजडन श्रृंखला 2 . 1 से जीती थी.