इंग्लैंड के खिलाफ पहले दो वनडे मैचों में हार चुकी भारतीय महिला टीम के बल्लेबाज अपनी कप्तान मिताली राज (Mithali Raj) का साथ देने में असफल साबित हो रहे हैं। इंग्लैंड के खिलाफ दोनों वनडे मुकाबलों में भारतीय टीम का बल्लेबाजी क्रम पूरी तरह लड़खड़ाया है और केवल मिताली ही रन बनाने में कामयाब रहीं।

मिताली ने दो वनडे में कुल 131 रन बनाए हैं। उनके अलावा शैफाली वर्मा है जिन्होंने 50 से ज्यादा का स्कोर किया है। मिताली ने दोनों मैचों में अर्धशतक लगाए हैं। उन्होंने 72 और 59 रनों की पारियां खेली थी।

भारत की लेग स्पिनर पूनम यादव ने कहा है कि बल्लेबाजों को गैप निकालकर स्कोर करने और लड़खड़ाने से बचने की जरूरत है। पूनम ने कहा, “बल्लेबाजी यूनिट ध्वस्त हो रहा है लेकिन मुझे भरोसा है कि हम तीसरे वनडे में अच्छा प्रदर्शन करेंगे।”

उन्होंने कहा, “हम वापसी करेंगे। विश्व कप अगले साल होना है और हम फील्ड सजाने को लेकर काम कर रहे हैं जिससे विश्व कप के लिए मदद मिल सके।”

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 22 साल पूरे करने वाली मिताली सर्वाधिक रन बनाने वालों की लिस्ट में शामिल हैं। उनके अलावा टैमी ब्यूमोंट (97), नताली स्काइवर (93) और सोफिया डंक्ली (73) भी शामिल हैं। दो मैचों में 59 रनों के साथ शैफाली शीर्ष पांच में शामिल हैं।

भारत की उपकप्तान हरमनप्रीत कौर खराब फॉर्म में चल रही हैं और उन्होंने दो मैचों में सिर्फ 20 रन बनाए हैं। उनके अलावा दीप्ति शर्मा ने 35 रन और पूनम राउत ने दो मैचों में 32 रन बनाए हैं।