मैथ्यू हॉबडन © Getty Images
मैथ्यू हॉबडन © Getty Images

हाल ही में इंग्लिश क्रिकेटर मैथ्यू हॉबडन की मात्र 22 साल की उम्र में निधन हो गया। मैथ्यू के निधन की खबर के बाद पूरे विश्व की क्रिकेट बिरादरी को गहरा सदमा लगा है। वह सुसेक्स की ओर से क्रिकेट खेलते थे। युवा क्रिकेटर हॉबडन ने सुसेक्स के लिए अपना अंतिम मैच 19 अगस्त 2015 को खेला था। उन्होंने अपना पर्दापण साल 2012 में किया था। दाहिने हाथ के तेज गेंदबाज हॉबडन ने अपने पूरे क्रिकेट जीवन के दौरान लिस्ट-ए मैच के अलावा 18 प्रथम श्रेणी मैच खेले। इस दौरान उन्होंने 48 विकेट लिए जिसमें उनका औसत 39.55 रहा। हॉबडन की निधन की खबर सुसेक्स क्रिकेट बोर्ड ने दी।

सुसेक्स ने अपनी आधिकारिक वेबसाइट में बयान जारी करते हुए लिखा है, “सुसेक्स क्रिकेट बोर्ड को मैथ्यू हॉबडेन की आकस्मिक मृत्यु से गहरा सदमा लगा है और यह सुनकर बहुत दुख हुआ। मैथ्यु के एक बेहतरीन युवा क्रिकेटर थे और उनका इस खेल में बेहतरीन भविष्य नजर आ रहा था। वह एक बेहतरीन व्यक्ति था जिसने सुसेक्स की टीम को अपना अच्छा योगदान दिया। मैथ्यू का जन्म ईस्टबाउर्ने में हुआ था।

सुसेक्स के लिए उसने अपना प्रथम श्रेणी पर्दापण साल 2014 में किया था और उसने सुसेक्स को क्रिकेट के तीनों प्रारूपों में प्रतिनिधित्व किया और पिछले दो सीजनों से लगातार टीम का हिस्सा रहा। वह बहुत याद किया जाएगा। सुसेक्स इस कठिन समय में मैथ्यू के परिवार और दोस्तों को अपनी ओर से गहरी संवेदना व्यक्त करता है। टीम के खिलाड़ी और स्टाफ अपनी ओर से जितना हो सकेगा उतनी मदद करेंगे और हम चाहेंगे कि मैथ्यू का परिवार और अन्य लोग सुसेक्स क्रिकेट से जुड़े रहें।”