दिल्ली कैपिटल्स (DC) के सलामी बल्लेबाज पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) की मैच फिनिश करने की क्षमता से बेहद प्रभावित हैं। युवा भारतीय बल्लेबाज शॉ खुद को भाग्यशाली मानते हैं कि उन्हें चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) के महान कप्तान को देखने का मौका मिला।

40 साल के धोनी ने रविवार रात अबु धाबी में खेले गए आईपीएल 2021 के पहले क्वालिफायर में दिल्ली को चार विकेट से हराकर सीएसके को अपने नौवें आईपीएल फाइनल में पहुंचाया।

आखिरी ओवरों में बल्लेबाज करने उतरे धोनी ने 6 गेंदो पर तीन चौकों और एक छक्के की मदद से 18 रन की नाबाद पारी खेलकर सीएसके को फाइनल में जगह दिलाई।

मैच में अर्धशतकीय पारी खेलने वाले शॉ ने कहा, “एमएस धोनी कुछ अलग हैं, ये सभी जानते हैं। हमने उन्हें कई बार मैच खत्म करते देखा है और उनके लिए या हमारे लिए उन्हें ऐसा करते देखना कोई नई बात नहीं है। वो निश्चित रूप से एक खतरनाक खिलाड़ी है जब भी वो बल्लेबाजी करते हैं।”

शॉ ने अपने फ्रेंचाइजी द्वारा जारी बयान में कहा, “मैं खुद को बहुत भाग्यशाली मानता हूं कि मुझे उन्हें एक बल्लेबाज और एक लीडर के रूप में देखने का मौका मिला। उन्होंने खेल को हमसे छीन लिया।”

शॉ ने माना कि टीम के लिए इस हार को पचा पाना मुश्किल है। उन्होंने कहा, “इस समय, हमें एक-दूसरे का समर्थन करना होगा। पूरी टीम हमारे प्रदर्शन की जिम्मेदारी लेती है, चाहे हम जीतें या हारें। हम कोशिश करेंगे और अगले मैच में और मजबूत होकर वापसी करेंगे। टीम के लिए इस हार को पचा पाना मुश्किल है।”

उन्होंने कहा, “हालांकि, हमारे पास एक और मैच है जिसके जरिए हम फाइनल के लिए क्वालिफाई कर सकते हैं और मुझे टीम में हर किसी पर विश्वास है। वे सभी महान खिलाड़ी हैं – प्रतिभा और कौशल के लिहाज से। मुझे वास्तव में विश्वास है कि हम इसमें कुछ खास कर सकते हैं। अगला मैच जीतें और फाइनल में पहुंचें।”