करियर की शुरुआत से ही भारतीय ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या की तुलना पूर्व कप्तान और अपने समय के दिग्गज ऑलराउंडर कपिल देव से की जा रही है। इस तुलना का पांड्या के करियर पर सकारात्मक से ज्यादा नकारात्मक प्रभाव पड़ा है क्योंकि समीक्षक इस युवा खिलाड़ी के हर कदम की तुलना पूर्व दिग्गज के साथ करते हैं। ऐसे ही कुछ पाकिस्तान के पूर्व खिलाड़ी अब्दुल रज्जाक ने भी किया। इस पूर्व ऑलराउंडर का कहना है कि पांड्या कपिल देव के आस-पास भी नहीं आते हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘कपिल देव और इमरान खान अब तक के ऑलराउंडर रहे हैं। उस स्तर के सामने हार्दिक कहीं नहीं है। यहां तक ​​कि मैं एक ऑलराउंडर था, लेकिन इसका मतलब ये नहीं है कि मैं खुद की तुलना इमरान भाई से करूंगा। कपिल पाजी और इमरान भाई अलग स्तर के खिलाड़ी थे।’’

रज्जाक ने ये भी कहा कि पांड्या को विश्वस्तरीय क्रिकेटर बनने के लिए कड़ी मेहनत करने की जरूरत है जो कि 26 साल का ये खिलाड़ी नहीं करता। रज्जाक ने कहा, ‘‘पांड्या एक अच्छे खिलाड़ी हैं लेकिन वो एक शानदार ऑलराउंडर बन सकते हैं। ये सब मेहनत पर निर्भर करता है। जब आप खेल को पर्याप्त समय नहीं देते हैं, तो आपका प्रदर्शन खराब होगा।’’

उन्होंने कहा, ‘‘उसे शारीरिक के साथ-साथ मानसिक रूप से भी बेहतर तैयारी करनी होगी। जैसा कि आपने देखा है, वो पिछले साल वो कई बार चोटिल हुआ। जब आप बहुत पैसा कमाते हैं, तो आप मेहनत से दूर भागने लगते है। मोहम्मद आमिर को देखिये उसने ज्यादा मेहनत नहीं कि जो उसके प्रदर्शन में दिख रहा है।’’