इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2021) के 14वें सीजन में 14 करोड़ की राशि पर पंजाब किंग्स (Punab Kings) में शामिल हुए झाय रिचर्डसन (Jhye Richardson) ने माना कि नीलामी में बड़ी रकम मिलने के बाद उन्होंने खुद को दबाव बनाना शुरू कर दिया था लेकिन मुख्य कोच अनिल कुंबले से बातचीत के बाद उनकी परेशानी दूर हो गई।

पीटीआई से बातचीत में उन्होंने कहा, ‘‘मैंने खुद पर दबाव बनाना शुरू कर दिया (नीलामी में बड़ी रकम हासिल करने पर)। कल मैंने अनिल के साथ एक अच्छी बातचीत की, और उन्होंने कहा, ‘आप जानते हैं कि हमने आपकी सेवाओं के लिए आपके लिए उस रकम की बोली लगाई है जो आप मैदान पर करते है। मेरे लिए ये जानना जरूरी था कि कोच ने किसी कारण से मुझे चुना है और मैं जानता हूं कि मुझमें वो क्षमता है।’’

रिचर्डसन आगामी सीजन में मोहम्मद शमी के साथ तेज गेंदबाजी अटैक की अगुवाई करेंगे। पंजाब किंग्स को उनसे आखिरी ओवरों में बेहतर गेंदबाजी की उम्मीद होगी जो पिछले सीजन में टीम की कमजोर कड़ी थी।

उन्होंने कहा, ‘‘मैं मैदान में जाकर खेल का लुत्फ उठाना चाहता हूं। ये कहना आसान है लेकिन करना काफी मुश्किल है क्योंकि आप दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज को गेंदबाजी कर रहे होंगे। अगर मैं रनअप मार्क (सिर्फ गेंदबाजी के लिए दौड़ने से पहले) पर मुस्कुरा सकूं तो ये मेरे लिए एक बड़ी बात होगी। मैंने वास्तव में इस पर (गेंदबाजी से पहले मुस्कुराहट) बिग बैश के दौरान काम करना शुरू किया था। ये मुस्कुराहट इस लिये भी रखनी है ताकि मैं खुद को यह भरोसा दिला सकूं कि यह मजेदार होगा।’’

पिछले साल कंधे की सर्जरी के बाद खेल में वापसी करने वाले रिचर्डसन ने कहा कि कभी-कभी खराब गेंदबाजी के बाद वो खुद पर बहुत अधिक दबाव डालता है। रिचर्डसन टीम में वेस्टइंडीज के शेलडन कोटरेल की जगह शामिल हुए है। कोटरेल के खिलाफ पिछले सत्र में राहुल तेवतिया ने एक ओवर में पांच छक्के जड़े थे।

रिचर्डसन ने कहा, ‘‘कई बार अच्छी गेंदबाजी के बाद भी आपके खिलाफ छक्का लग सकता है। उससे निपटने के लिए उसी समय आपको तरीका खोजना होगा। मेरे लिए अच्छी बात ये है कि बिग बैश में मैं शायद वो व्यक्ति था जिसे मुश्किल परिस्थितियों में गेंदबाजी की जरूरत थी । उसके साथ अनुभव भी आता है। मैं निश्चित रूप से अपने बारे में और अधिक आश्वस्त हो रहा हूं और आखिरी ओवरों में बेहतर गेंदबाजी की क्षमता का समर्थन कर रहा हूं।’’