रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (RCB) के खिलाफ मैच में जीत के बाद किंग्स इलेवन पंजाब (KXIP) टीम ने इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2020) के 13वें सीजन में हार का सिलसिला तोड़ दिया है। लेकिन पूर्व दिग्गज और पंजाब टीम के मेंटोर रह चुके वीरेंदर सहवाग इस जीत से खुश नहीं हैं।

सहवाग का कहना है कि ये मैच एक-दो ओवर पहले ही खत्म हो जाना चाहिए था। पूर्व सलामी बल्लेबाज ने यहां तक कह दिया कि अगर टीम आखिरी ओवर में मैच हार जाती तो इसका दोष किसे दिया जाता था।

क्रिकबज से बातचीत में सहवाग ने कहा, “मैं मैच का और भी आनंद लेता अगर केएल राहुल इसे एक या दो ओवर पहले खत्म कर देते। क्योंकि, अगर आप इतने अच्छे फॉर्म में हैं, मैदान पर क्रिस गेल और राहुल जैसे बड़े बल्लेबाज हैं और आपको तीन ओवर में 11 रन चाहिए तो आप मैच दो ओवर पहले क्यों नहीं खत्म कर सकते, ताति आपका नेट रन रेट बढ़े।”

उन्होंने कहा, “अगर आप मैच जीतने और टूर्नामेंट जीतने के बारे में सोच रहे हैं तो फिर आपको नेट रन रेट पर नजर रखनी होगी। ऐसा मौका आएगा जब उनके पास बराबर अंक होंगे लेकिन खराब रन रेट की वजह से वो टूर्नामेंट में आगे नहीं बढ़ पाएंगे।”

पूर्व भारतीय दिग्गज ने कहा कि राहुल को मैच को खत्म करना सीखना होगा। उन्होंने कहा, “ये तारीफ के काबिल है कि केएल राहुल ने आरसीबी के खिलाफ मैच खत्म किया लेकिन मैं और भी खुश होता अगर वो 18वें ओवर में ऐसा करता। अगर आखिरी ओवर में पूरन आउट हो जाता को फिर किसे दोष दिया जाता- राहुल को, गेल को या पूरन को?”

सहवाग ने आगे कहा, “अगर आप सुपर ओवर में हारते, तो फिर किसे दोष दिया जाता? अगर आप कप्तान हैं और 20वें ओवर तक क्रीज में खड़े हैं और अच्छे फॉर्म में हैं तो आपको मैच एक ओवर पहले खत्म करना चाहिए था। ये ऐसी चीज है जो राहुल को सीखनी होगी। क्योंकि आखिरी ओवर में एक गलत कदम, एक गलत फैसला, एक अच्छी गेंद, एक रन आउट- ये सारी चीजें हो सकती है और फिर आप मैच हार सकते हैं।”