I’m not a magician who will do well in every match- Kuldeep Yadav
Kuldeep Yadav @IANS

भारतीय क्रिकेट टीम के स्पिनर कुलदीप यादव ने अपनी सफलता का श्रेय कप्तान विराट कोहली को दिया है। उनका मानना है कि अगर कोहली ने उन्हें गेंदबाजी आक्रमण करने की आजादी नहीं दी होती तो वह इतने सफल नहीं हुए होते। उन्होंने खराब प्रदर्शन पर कहा कि हर दिन अच्छा करना संभव नहीं है।

कुलदीप ने पीटीआई से कहा, ‘‘आपको बड़े मंच पर चमकने के लिए एक ऐसे कप्तान की जरूरत होती है जो आपका समर्थन करे और आपकी काबिलियत पर भरोसा रखे। आपको लगता है कि अगर हमें कोहली भाई ने आक्रमण करने की आजादी नहीं दी होती तो क्या हम इतने सफल हो सकते थे ?’’

पढ़ें:- विश्व कप में बन सकते हैं पारी में 500 रन, ECB ने बदला फैंस स्कोरकार्ड

कोलकाता नाइटराइडर्स के लिए खेलने वाले कुलदीप को इस साल आईपीएल में ईडन गार्डन्स की बल्लेबाजों की मुफीद पिच पर काफी निराशा हाथ लगी क्योंकि उन्हें नौ मैचों में केवल चार ही विकेट मिले जिसके बाद उनकी फ्रेंचाइजी ने टूर्नामेंट के अंत में उन्हें अंतिम एकादश से बाहर कर दिया।

चौबीस साल के खिलाड़ी ने कहा कि वह आईपीएल निराशा को पीछे छोड़कर 30 मई से शुरू होने वाले आगामी विश्व कप में शानदार प्रदर्शन करना चाहते हैं।

पढ़ें:- ‘1983, 2011 के प्रदर्शन को इस विश्‍व कप में फिर दोहराएगा भारत’

उन्होंने कहा, ‘‘आईपीएल विश्व कप की तुलना में काफी अलग है। ऐसे भी खिलाड़ी हैं जिन्होंने आईपीएल में अच्छा प्रदर्शन किया है लेकिन वे देश के लिए इतना बेहतर नहीं कर पाए। मैं गेंदबाज के तौर पर काफी परिपक्व हुआ हूं और विश्व कप में आईपीएल के प्रदर्शन का बिलकुल असर नहीं पड़ेगा।’’

कुलदीप ने कहा, ‘‘यह टी20 इस तरह का फॉर्मेट है, जिसमें आपके लिए एक दिन खराब हो सकता है जहां आपकी गेंद पर रन जुटाए जाते हैं। मैं कोई जादूगर नहीं हूं जो हर मैच में अच्छा प्रदर्शन करे। आप ऐसा नहीं कह सकते कि मैं इतने सारे विकेट ले लूंगा।’’

उन्होंने साथ ही कहा, ‘‘अगर मुझे विकेट नहीं मिल रहे तो इसका मतलब यह नहीं है कि मैं अच्छी गेंदबाजी नहीं कर रहा हूं। अब मैं परिपक्व क्रिकेटर की तरह खेलता हूं और ज्यादा से ज्यादा टीम के बारे में सोचता हूं।’’

कुलदीप ने महेंद्र सिंह धोनी पर उनकी टिप्पणी से हुए ताजा विवाद के बारे में भी बात की कि कभी कभार पूर्व कप्तान के ‘टिप्स’ गलत हो जाते हैं। उन्होंने कहा, ‘‘मेरे जैसा युवा टीम के इतने वरिष्ठ सदस्य के बारे में इस तरह की टिप्पणियां कैसे कर सकता है ? मीडिया ने मेरे बयान को तोड़ मरोड़ के पेश किया ताकि विवाद पैदा हो जाए।’’

कुलदीप ने कहा, ‘‘इसमें कोई शक नहीं है कि उनके टिप्स सिर्फ मेरे लिए ही नहीं बल्कि पूरी टीम के लिए अहम रहे हैं। स्टंप के पीछे उनकी मौजूदगी से हमारा काम आसान बन जाता है और कोई भी इसे नहीं बदल सकता।’’