India vs Australia, 2nd ODI: Virat Kohli discloses what MS Dhoni and Rohit Sharma told him on Vijay Shankar’s over
Virat-Kohli © AFP

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरे वनडे मैच में शतकीय पारी खेलने वाले भारतीय कप्तान विराट कोहली ने कहा कि वह 46वें ओवर में विजय शंकर को गेंद सौंपना चाहते थे लेकिन पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी और उपकप्तान रोहित शर्मा ने उन्हें ऐसा करने से रोक दिया।

पढ़ें: नागपुर वनडे में भारत की ऑस्ट्रेलिया पर 8 रन से रोमांचक जीत

मैन ऑफ द मैच कोहली ने 120 गेंद में 116 रन की पारी खेली जबकि बुमराह और शंकर ने डेथ ओवरों में शानदर गेंदबाजी की जिससे भारत ने यह मैच आठ रन से जीता। शंकर ने अंतिम ओवर की पहली तीन गेंदों पर दो विकेट लिए।

कोहली ने मैच के बाद कहा, ‘मैं ऑस्ट्रेलिया की बल्लेबाजी के दौरान 46वां ओवर शंकर को देने के बारे में सोच रहा था लेकिन धोनी और रोहित ने मुझे जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी के साथ गेंदबाजी जारी रखने की सलाह दी। उनका सोचना था कि अगर हम कुछ विकेट निकाल लेते हैं तो मैच में बने रहेंगे और ऐसा ही हुआ। शंकर ने स्टंप्स की सीध में गेंदबाजी की और यह काम आया। रोहित से सलाह लेना हमेशा अच्छा रहता है वह टीम के उप-कप्तान हैं और धोनी लंबे समय से यह काम करते आ रहे है।’

‘बुमराह चैंपियन गेंदबाज हैं’

भारतीय कप्तान विराट कोहली ने आखिरी के ओवरों में शानदार गेंदबाजी के दम पर मैच में टीम की वापसी कराने वाले पेसर बुमराह की तारीफ की।

पढ़ें: 500 वनडे मैच जीतने वाली वर्ल्‍ड की दूसरी टीम बनी टीम इंडिया

उन्होंने कहा, ‘बुमराह चैंपियन गेंदबाज हैं। एक ओवर में दो विकेट लेकर उन्‍होंने मैच का रूख हमारे तरफ मोड़ दिया। ऐसे मैचों से आपको काफी आत्मविश्वास मिलता है। विश्व कप में भी हमें ऐसे कम स्कोर वाले मैच मिल सकते हैं। यह पिच केदार जाधव की गेंदबाजी के लिए सटीक थी। वह आखिरी ओवर में भी गेंदबाजी करना चाहते हैं।’

’40वां शतक महज आंकड़ा’

वनडे क्रिकेट में 40वां शतक लगाने वाले कोहली ने कहा, ‘यह सिर्फ संख्या है। लेकिन जब आप मैच जीतते हैं तो अच्छा लगता है। जब मैं बल्लेबाजी के लिए उतरा तो हालात मुश्किल थे। मेरे पास पूरी पारी में बल्लेबाजी करने के अलावा कोई विकल्प नहीं था। मुझे टीम की गेंदबाजी से ज्यादा खुशी मिली है।’