india vs australia there was no turn for spinner so we changed our plan says ravindra jadeja
रवींद्र जडेजा @ICCTwitter

सिडनी टेस्ट (Sydney Test) में ऑस्ट्रेलिया (India vs Australia) की पहली पारी में रवींद्र जडेजा (Ravindra jadeja) भारत के सबसे सफल गेंदबाज बने हैं. उन्होंने 4 महत्वपूर्ण विकेट लेकर ऑस्ट्रेलिया को 338 रन पर समेटने में अहम भूमिका निभाई. दिन का खेल खत्म होने के बाद इस लेफ्टआर्म स्पिन गेंदबाज ने बताया कि सिडनी की पिच पर टर्न नहीं मिल रहा था. ऐसे में उन्होंने परिस्थितियों को भांपते हुए बॉल की स्पीड में बदलाव किया और ‘एंगल्स’ यानी कोण में बॉलिंग करने को तरजीह दी.

ऑस्ट्रेलिया की पहली पारी में जड्डू ने 18 ओवरों में 62 रन देकर 4 विकेट अपने नाम किए. इसके अलावा यहां सेंचुरी जड़ने वाले स्टीव स्मिथ (Steve Smith) को अपनी शानदार फील्डिंग पर रन आउट से उनका शिकार किया. दूसरे दिन का खेल खत्म होने के बाद जडेजा ने वर्चुअल प्लेटफॉर्म पर मीडिया से बात की.

इस दौरान उन्होंने बताया, ‘हमारा प्लान उन पर दबाव बनाने का था क्योंकि यह ऐसी पिच नहीं थी, जहां आपको हर ओवर में चांस मिल सके. इस पिच पर कोई टर्न नहीं मिल रहा था. ऐसे में एक ही स्पीड से आप सभी गेंदें नहीं फेंक सकते थे. ऐसे में हमे सभी को मिला जुलाकर ‘एगल्स’ बनाने पड़े.’

पिछले कुछ समय से जडेजा सिर्फ बॉलिंग ही नहीं वह बैटिंग में भी अहम रोल निभाते आ रहे हैं. उनकी कोशिश है कि वह टीम को हर ढंग से योगदान कर सकें. मेलबर्न टेस्ट में उन्होंने अहम मौके पर कप्तान रहाणे के साथ शतकीय साझेदारी की थी और 47 रन की उम्दा पारी खेलकर टीम की जीत में अहम भूमिका अदा की थी. इससे पहले लिमिटेड ओवरों की सीरीज में भी उन्होंने शानदार परफॉर्मेंस दिया था.

जब उनसे उनके ऑलराउंडर खेल पर सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा, ‘पिछले 12-18 महीनों से नहीं, बल्कि जबसे मैंने खेलना शुरू किया, तब से मेरी भूमिका यही रही है. जब भी मैं खेलता हूं, मैं खेल के दोनों विभागों में योगदान करने की कोशिश करता हूं.’

32 वर्षीय इस ऑलराउंडर खिलाड़ी ने कहा, ‘जब भी मुझे मौका दिया गया तो मैंने इसमें योगदान किया है. हां, भारत के बाहर, मेरे बल्लेबाजी प्रदर्शन को ज्यादा तवज्जो मिली है. मैं ज्यादा कुछ नहीं सोच रहा हूं, बस हर मिले मौके का फायदा उठाना चाहता हूं.’ उन्होंने कहा कि अगर उन्हें टीम मैनेजमेंट ऊपरी क्रम में बैटिंग का मौका देता है तो वह वहां भी बैटिंग के लिए तैयार हैं.

इनपुट : भाषा