India vs Australia: Threat looms over Brisbane Test as Queensland impose 3-day lockdown
गाबा स्टेडियम, ब्रिसबेन (Twitter)

कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों की वजह से क्वींसलैंड में तीन दिन का सख्त लॉकडाउन लागू किए जाने के बाद भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच ब्रिसबेन में होने वाले चौथे टेस्ट का आयोजन खतरे में पड़ गया है।

भारत और ऑस्ट्रेलिया के शीर्ष क्रिकेट अधिकारियों के बीच ब्रिसबेन में मेहमान टीम को सख्त क्वारेंटीन नियमों से छूट दिए जाने को लेकर हुई चर्चा के मात्र 24 घंटे बाद इस लॉकडाउन की घोषणा की गई। बॉर्डर गावस्कर ट्रॉफी का चौथा टेस्ट 15 जनवरी से गाबा में खेला जाना है। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने पहले ही 36,000 दर्शकों को आने की अनुमति दे दी थी लेकिन बदली परिस्थितियों में इसमें बदलाव हो सकता है।

सिडनी मार्निंग हेरल्ड की रिपोर्ट के अनुसार, ‘‘क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के अधिकारी तीन दिवसीय लॉकडाउन के कारण अगले सप्ताह से गाबा में शुरू होने वाले चौथे टेस्ट मैच पर पड़ने वाले प्रभाव का आकलन करने की कोशिश कर रहे हैं। भारत के कड़े जैव सुरक्षा नियमों के कारण ब्रिस्बेन में खेलने को लेकर हिचकिचाहट से पहले ही इस मैच पर आशंका के बादल मंडरा रहे थे।’’

इसमें कहा गया है, ‘‘होटल में आइसोलेशन में रह रहे एक कर्मचारी के ब्रिटेन में पाए गए नए प्रकार के कोविड स्ट्रेन से संक्रमित होने के कारण क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया की बॉर्डर-गावस्कर ट्राफी का समापन गाबा में करने की उम्मीदों को झटका लगा है।’’

सिडनी टेस्ट: रोहित-शुबमन की सधी शुरुआत; टी तक भारत 26/0

बीसीसीआई ने गुरुवार को अपने खिलाड़ियों को ब्रिसबेन में सख्त क्वारेंटीन नियमों से छूट दिलाने के लिए सीए को पत्र लिखा था। बीसीसीआई ने उसका ध्यान इस तरफ भी दिलाया कि भारतीय टीम ने दौरे के शुरू में सहमति के अनुसार सभी क्वारेंटीन नियमों का पालन किया था।

जिसके बाद सीए ने भारत को मौखिक आश्वासन दिया है कि क्वींसलैंड सरकार के साथ एक समझौता हुआ है जिसके अनुसार खिलाड़ी और सहयोगी स्टाफ होटल के अंदर एक दूसरे से मिल सकते हैं लेकिन पता चला है कि भारतीय बोर्ड लिखित आश्वासन चाहता है। अगर चौथा टेस्ट मैच ब्रिस्बेन में नहीं हो पाता है तो फिर इस मैच का आयोजन सिडनी में ही किया जा सकता है।