INDvsSA: Pressure is on batsmen in T20s as people come for entertainment; Says Tabraiz Shamsi
Tabraiz Shamsi @AFP

दक्षिण अफ्रीका के बाएं हाथ के स्पिनर तबरेज शम्सी को लगता है कि टी-20 बल्लेबाजों का प्रारूप है जिसमें उनके जैसे गेंदबाज मैदान में आए दर्शकों का मजा किरकिरा ही करते हैं।

पढ़ें: ‘रोहित शर्मा, महेंद्र सिंह धोनी की मौजूदगी की वजह से प्रभावी कप्तान हैं विराट कोहली’

कलाई के इस स्पिनर ने भारत के खिलाफ मोहाली में दूसरे टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच के दौरान तीन ओवर में 19 रन देकर एक विकेट झटका और अब उनकी टीम चिन्नास्वामी स्टेडियम में सीरीज बराबर करने की कोशिश में जुटी है, जहां वह स्थानीय आईपीएल फ्रेंचाइजी रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के लिए खेलते थे।

शम्सी दक्षिण अफ्रीका के लिए 17 वनडे और 15 टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेल चुके हैं। उन्होंने इंटरव्यू में कहा, ‘मुझे लगता है कि इससे बल्लेबाजों पर और दबाव आता है कि वे मैदान में जाकर वही करें जिसे लोग देखना चाहते हैं। इसलिए बतौर गेंदबाज हम सिर्फ दर्शकों का मजा किरकिरा करने के लिए ही हैं और साथ ही यह सुनिश्चित करने के लिए भी कि हम अपनी योजना का कार्यान्वयन अच्छी तरह कर सकें।’

तीसरा और अंतिम टी-20 रविवार को चिन्नास्वामी स्टेडियम में खेला जाएगा।

पढ़ें: आयरलैंड महिला क्रिकेट टीम के हेड कोच बने एड जॉयस

शम्सी ने कहा, ‘चिन्नास्वामी छोटा स्टेडियम है और मेरा मतलब है कि यह टी-20 सीरीज है इसलिए लोग निश्चित रूप से यहां बल्लेबाजों को चौके और छक्के हिट करते हुए देखने के लिए पहुंचेंगे। लोग मैदान में आपको मेडन ओवर फेंकते हुए देखने के लिए नहीं हैं। टी-20 ऐसा ही क्रिकेट प्रारूप है।’