IPL 2020:  Amid the pandemic, The Indian Premier League returns

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2020) के 13वें एडिशन की शुरुआत शनिवार से संयुक्त अरब अमीरात (UAE) में होगी। कोरोनाकाल में आयोजित होने जा रहे इस टूर्नामेंट में 8 टीमें हिस्स लेंगी। पहला मुकाबला मौजूदा चैंपियन मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपरकिंग्स के बीच खेला जाएगा।

भारत में कोरोना महामारी के बढ़ते मामलों के कारण टूर्नामेंट यूएई में खेला जा रहा है और मैदान में दर्शक नहीं होंगे। कठिन हालात में सिनेमा और क्रिकेट के लिये तरस रहे दर्शकों के लिए भी यह आईपीएल खास होगा और खिलाड़ियों के लिये भी।

ऐसे में जब सामाजिक दूरी और स्वास्थ्य प्रोटोकॉल दिनचर्या का हिस्सा बन चुके हैं, अगले 53 दिन धोनी की चेन्नई सुपर किंग्स, कोहली की रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर, रोहित की मुंबई इंडियंस, केएल राहुल की किंग्स इलेवन पंजाब और श्रेयस अय्यर की दिल्ली कैपिटल्स समेत आईपीएल टीमों के नाम होंगे।

इस बार करोड़ों डॉलर का यह क्रिकेटिया तमाशा पहली बार जैविक सुरक्षित माहौल में होगा

आईपीएल पहले भी विदेश में हुआ है लेकिन इस बार करोड़ों डॉलर का यह क्रिकेटिया तमाशा पहली बार जैविक सुरक्षित माहौल में होगा। इसमें क्रिस गेल और डेविड वार्नर के गगनभेदी छक्कों पर तालियां पीटने वाले नहीं होंगे और ना ही सुपर ओवर में कोई शोर सुनाई देगा । इसके बावजूद कोई शिकायत नहीं क्योंकि कम से कम खेल देखने को तो मिलेगा ।

कागजों पर आकलन करें तो मुंबई की टीम सबसे मजबूत नजर आ रही है जिसमें रोहित के अलावा हार्दिक और कृणाल पंड्या , कीरोन पोलार्ड और ‘डैथ ओवरों के शहंशाह’ गेंदबाज जसप्रीत बुमराह हैं ।

चेन्नई टीम को भले ही ‘बूढों की फौज’ कहें लेकिन इस टीम ने साबित किया है कि सफलता और प्रतिभा उम्र के मोहताज नहीं होते । शेन वाटसन, ड्वेन ब्रावो, फाफ डु प्लेसी और रविंद्र जडेजा ने अपना सौ प्रतिशत इस टीम को दिया है और इस बार भी देंगे ।

कोहली की उपलब्धियों में आईपीएल खिताब की कमी खटकती है जिसे वह पूरा करना चाहेंगे। एरोन फिंच, क्रिस मौरिस और देवदत्त पडीक्कल की मौजूदगी में टीम मजबूत दिख रही है।

दिल्ली कैपिटल्स ने पिछले साल लय हासिल की और उनके पास अय्यर जैसा बेहतरीन कप्तान , पृथ्वी साव और ऋषभ पंत जैसे प्रतिभाशाली बल्लेबाज हैं । इसके साथ ही रविचंद्रन अश्विन जैसा अनुभवी गेंदबाज टीम में है।

सनराजइर्स हैदराबाद की कोशिश एक बार फिर फाइनल तक पहुंचने की होगी

राहुल की पंजाब टीम का अच्छा प्रदर्शन भविष्य में राहुल को भारतीय टीम के संभावित कप्तानों की जमात में शामिल कर सकता है। यह देखना होगा कि ग्लेन मैक्सवेल, गेल और मोहम्मद शमी जैसे स्टार खिलाड़ियों को वह कैसे संभालते हैं।

सनराजइर्स हैदराबाद की कोशिश एक बार फिर फाइनल तक पहुंचने की होगी और उनके कप्तान डेविड वार्नर मैच जिताने के फन में माहिर हैं ।उनके पास जॉनी बेयरस्टॉ की आक्रामकता , केन विलियमसन की ‘कूलनेस’ और राशिद खान की कलाई का जादू है।

आईपीएल का कुछ भाग 2014 में जब यूएई में खेला गया था, तब कोलकाता नाइट राइडर्स ने खिताब जीता था  बेन स्टोक्स अगर दुनिया के सर्वश्रेष्ठ हरफनमौला हैं तो आंद्रे रसेल सबसे आक्रामक बल्लेबाज। उन्होंने पिछले सत्र में 52 छक्के जड़कर यह साबित किया था।

अंडर 19 विश्व कप सितारे शुभमन गिल, शिवम मावी और कमलेश नागरकोटी टीम में युवा जोश भरेंगे जबकि इयोन मोर्गन के रूप में अनुभवी कप्तान टीम के पास है।

राजस्थान रॉयल्स की उम्मीदों का दारोमदार विदेशी खिलाड़ियों पर रहेगा 

राजस्थान रॉयल्स की उम्मीदों का दारोमदार विदेशी खिलाड़ियों जोस बटलर, स्टीव स्मिथ और जोफ्रा आर्चर पर होगा । स्टोक्स अपने बीमार पिता की देखभाल के लिये न्यूजीलैंड में है और उनका खेलना संदिग्ध है।

पहले मैच में मुंबई का पलड़ा भारी लग रहा है । रोहित, क्विंटोन डिकॉक, सूर्य कुमार यादव, ईशान किशन, पंड्या बंधु, कीरोन पोलार्ड बल्लेबाजी को मजबूत देते हैं । ट्रेंट बोल्ट और नाथन कूल्टर नाइल भी टीम में हैं।

चेन्नई टीम में इतने सालों में ज्यादा बदलाव नहीं आया है । धोनी के सबसे विश्वस्त सिपहसालार सुरेश रैना इस बार नहीं है । उनकी जगह रितुराज गायकवाड़ भी उपलब्ध नहीं है जो कम से कम पांच बार कोरोना पॉजिटिव आ चुके हैं।

लेकिन चेन्नई के पास वाटसन, अंबाती रायुडू, केदार जाधव, रविंद्र जडेजा और ब्रावो जैसे मैच विनर हैं । मिशेल सेंटनेर और लुंगी एंगिडि भी चयन के लिये उपलब्ध हैं।