तीन बार की चैंपियन चेन्नई सुपरकिंग्स (Chennai Super Kings) ने आईपीएल 2020 के अपने अंतिम लीग मैच में किंग्स इलेवन पंजाब (Kings XI Punjab) को 9 विकेट से हराकर जीत से विदाई ली. आईपीएल के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ जब चेन्नई प्लेऑफ में जगह बनाने में असफल रही.  चेन्नई ने मौजूदा आईपीएल में कुल 14 मैच खेले जिसमें उसे 6 में जीत मिली वहीं 8 मुकाबलों में उसे हार का सामना करना पड़ा.

सातवें स्थान पर रहकर किया IPL 13 का अंत

चेन्नई (CSK) सातवें स्थान पर रहते हुए आईपीएल 13 से बाहर हुई. सीएसके के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) का बल्ला भी अधिकतर समय खामोश रहा.  अगस्त 2020 में इंटरनेशनल क्रिकेट से रिटायरमेंट  की घोषणा करने वाले धोनी को लेकर अटकलें थीं कि वह इस आईपीएल के बाद संन्यास की घोषणा कर देंगे लेकिन धोनी ने इससे इंकार कर दिया.  धोनी ने साफ कर दिया है कि वह अगले साल भी आईपीएल में पीली जर्सी (Yellow Jersey) के साथ दिखेंगे.

फैंस ने ली राहत की सांस  

पंजाब के खिलाफ  IPL के 53वें मैच में टॉस के समय जब डैनी मॉरिसन ने टीम इंडिया के पूर्व कप्तान धोनी से पूछा कि क्या ‘येलो’ जर्सी में ये उनका अंतिम मैच है? इसपर धोनी ने कहा, डेफिनेटली नॉट (Definitely Not).  धोनी के इस उत्तर से उनके फैंस ने राहत की सांस ली.

धोनी के इस फैसले पर इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (ICC) ने भी खुशी जाहिर की है.  आईसीसी ने इस फैसले का स्वागत किया है.  क्रिकेट को चलाने वाले इस वैश्विक संस्था ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट ट्वीटर पर ट्वीट किया, ‘ 1929  hours से एमएस धोनी को रिटायर माने, बिल्कुल नहीं.’ इसके साथ ही आईसीसी ने धोनी की एक तस्वीर भी पोस्ट की जिसमें वह पीली जर्सी में  ग्राउंड से बाहर जाते हुए दिखाई दे रहे हैं.

धोनी ने 14 मैचोंं में 116.27 के स्ट्राइक रेट से 200 रन बनाए जिसमें नाबाद 48 रन सर्वश्रेष्ठ स्कोर रहा.