पहले सात में से पांच मैच गंवाने के बाद चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) ने सनराइजर्स हैदराबाद (SRH) के खिलाफ मैच में रणनीति में बड़े बदलाव किए जो कारगर साबित हुए। इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2020) के 29वें मैच में सीएसके टीम सात गेंदबाजों के साथ उतरी और ऑलराउंडर सैम कर्रन को सलामी बल्लेबाजी करने का मौका दिया गया।

जीत के बाद इन बदलावों के बारे में पूछे जाने पर मुख्य कोच स्टीफन फ्लेमिंग (Stephen Fleming) ने कहा कि टीम ने लगभग सभी मैच एक ही तरह से गंवाये थे और ऐसे में बदलाव जरूरी हो गया था।

सनराइजर्स के खिलाफ 20 रन की जीत में सबसे बड़ा बदलाव सैम कर्रन को सलामी बल्लेबाज के रूप में उतारना था और फ्लेमिंग ने कहा कि इस कदम से चेन्नई की पारी को जरूरी लय मिली। कुरेन ने 21 गेंदों पर 31 रन बनाए।

फ्लेमिंग ने कहा, ‘‘हमने हर पारी में सैम को बल्लेबाजी के लिए तैयार रखा था। हमने सोचा कि पुराने ढर्रे पर चलने के बजाय हमें किसी एक को अधिक मौके देने चाहिए और इसलिए हमने सैम को शीर्ष क्रम में भेजा। हमने अपने बल्लेबाजों को खुलकर खेलने का मौका दिया। ये अच्छी बात है कि सैम ने पारी को शुरू में लय प्रदान की। हम कुछ हटकर करना चाहते थे क्योंकि हमने सभी मैच एक जैसी स्थिति में गंवाये थे।’’

दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ शनिवार को शारजाह में होने वाले मैच के बारे में फ्लेमिंग ने कहा, ‘‘हम ‘परफेक्ट’ टीम नहीं बन सकते। हमें नये खिलाड़ियों को सामने लाने के तरीके ढूंढने होंगे जो कि उस दिन अंतर पैदा कर सकते हैं।’’

कर्रन के पारी का आगाज करने के कारण शेन वाटसन को तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी के लिए उतरना पड़ा लेकिन फ्लेमिंग ने इसे कारगर रणनीति बताया। उन्होंने कहा, ‘‘शेन बेहद अनुभवी खिलाड़ी है। स्विंग गेंदबाजों के सामने वो पावरप्ले के दूसरे चरण में आक्रामक रवैया अपना सकता है।’’