किंग्स इलेवन पंजाब (KXIP) के सह-मालिक नेस वाडिया ने कहा कि बोर्ड का सारा ध्यान ये निश्चित करने की तरफ होना चाहिए इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2020) के 13वें सीजन के दौरान एक भी कोविड-19 मामला ना हो क्योंकि ऐसा होने पर पूरा टूर्नामेंट बर्बाद हो जाएगा।

चाइनीज कंपनी वीवो के आईपीएल स्पॉन्सरशिप से नाम वापस लेने की खबरों पर बात करते हुए वाडिया ने कहा, “कई सारी अफवाहें चल रही हैं। मुझे लगता है कि ये बकवास है। जो बात हमें पता है वो ये है कि आईपीएल हो रहा है। हम खिलाड़ियों और बाकी लोगों की सुरक्षा को लेकर काफी चिंतित हैं। अगर एक भी मामला होता है तो आईपीएल बर्बाद हो जाएगा।”

वाडिया का कहना है अगर वीवो पीछे हट भी जाता है तो बीसीसीआई को आईपीएल के लिए और स्पॉन्सर मिल जाएंगे। उन्होंने कहा, “मुझे नहीं पता कि बीसीसीआई ने स्पॉन्सरशिप को लेकर क्या फैसला किया है। सभी टीम मालिकों के बीच एक अच्छी बैठक हुई और सभी आईपीएल को सफल बनाने को लेकर सहमत हैं। हमें बीसीसीआई का समर्थन करना है और फिर से बैठक करनी है।”

मौजूदा आर्थिक माहौल में वाडिया को उम्मीद है कि प्रायोजक जुड़ने के लिये कड़ी मेहनत करेंगे, भले ही टीम प्रायोजक हों या फिर आईपीएल प्रायोजक। उन्होंने कहा, ‘‘सभी प्रायोजक कड़ी मेहनत करेंगे लेकिन यह आईपीएल सबसे ज्यादा देखा जायेगा, मुझे पूरा भरोसा है। मेरी बात को याद रखिये। इस साल अगर प्रायोजक आईपीएल का हिस्सा नहीं होंगे तो यह काफी मूर्खतापूर्ण होगा।’’

बीसीसीआई ने टीमों को 16 पेज की मानक परिचालन प्रक्रिया (एसओपी) भेजी है ताकि टूर्नामेंट का आयोजन अच्छी तरह से हो सके, जिसमें खिलाड़ियों, सहयोगी स्टाफ, टीम अधिकारियों और मालिकों को जैविक रूप से सुरक्षित माहौल में रहना होगा। वाडिया ने आईपीएल के लिये संयुक्त अरब अमीरात जाने पर फैसला नहीं किया है लेकिन कहा कि सुरक्षा से समझौता नहीं किया जा सकता।