सीनियर ऑलराउंडर सुरेश रैना (Suresh Raina) के निजी कारणों के चलते इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2020) के 13वें सीजन के पीछे हटने के बाद टीम मालिक एन श्रीनिवासन (N Srinivasan) मामले पर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि रैना अपने फैसले को लेकर बहुत पछताएंगे।

द आउटलुक ने श्रीनिवासन के हवाले से लिखा, “सीजन अभी शुरू नहीं हुआ है और रैना को जल्दी समझ आएगा कि वो क्या मिस कर रहे हैं और वो सारा पैसा (प्रति सीजन 11 करोड़ रुपये का वेतन) जो वो खोने जा रहे हैं।”

उन्होंने कहा, “मेरी सोच ये है कि यदि आप अनिच्छुक हैं या खुश नहीं हैं, तो वापस जाएं। मैंने किसी को कुछ भी करने के लिए मजबूर नहीं किया … कभी-कभी सफलता आपके सिर चढ़ जाती है।”

रैना के आईपीएल छोड़ भारत लौटने के पीछे का कारण अभी तक स्पष्ट नहीं है। एक तरफ माना जा रहा है कि उन्होंने टीम में बढ़ रहे कोरोना वायरस मामलों की वजह से ये फैसला लिया है। वहीं दूसरी ओर खबर आ रही है कि पठानकोट में अपने बुआ-फूफा पर हुए हमले के बाद रैना ने भारत लौटने का फैसला लिया।

हालांकि श्रीनिवासन का कुछ और ही कहना है। रिपोर्ट के मुताबिक रैना दुबई में सीएसके मैनेजमेंट की ओर से मिले होटल के कमरे से खुश नहीं थे। रैना के कमरे में कथित रूप से ‘सही बालकनियां’ नहीं थीं, जिससे उन्हें बायो सिक्योर बबल में घुटन महसूस हो रही थी।

उन्होंने कहा, “क्रिकेटर प्राइमा डॉना की तरह होते हैं….पुराने समय के मनमौजी अभिनेताओं की तरह। चेन्नई सुपर किंग्स हमेशा से परिवार की तरह रही है और सभी सीनियर खिलाड़ियों ने एक साथ रहना सीख लिया है।”