रुतुराज गायकवाड़ (Ruturaj Gaikwad) और रॉबिन उथप्पा (Robin Uthappa) की अर्धशतकीय पारियों के बाद कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) की धमाकेदार बल्लेबाजी के दम पर चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) ने दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals) को चार विकेट से हराकर नौंवी बार आईपीएल फाइनल में जगह बना ली है।

चेन्नई के लिए गायकवाड़ ने 50 गेंदो पर 70 रनों की पारी खेली। जबकि उथप्पा ने 44 गेंदो पर 63 रन बनाए। कप्तान धोनी ने डेथ ओवरों में 6 गेंदो पर 18 रनों की अहम पारी खेली।

दिल्ली कैपिटल्स के दिए 173 रनों के लक्ष्य का पीछा करने चेन्नई सुपर किंग्स को पहले ही ओवर में बड़ा झटका लगा, जब टीम के इन-फॉर्म सलामी बल्लेबाज फाफ डु प्लेसिस दिल्ली के तेज गेंदबाज एनरिक नॉर्खिया की गेंद पर बोल्ड होकर पवेलियन लौटे।

मात्र तीन रन के स्कोर पर पहला विकेट खोने के बाद रुतुराज गायकवाड़ और रॉबिन उथप्पा ने सीएसके की पारी संभाली। सुरेश रैना की जगह खेल रहे उथप्पा ने कप्तान और मैनेजमेंट का खुद पर दिखाया विश्वास बरकरार रखा और आईपीएल इतिहास का अपना 25वां अर्धशतक जड़ा।

उथप्पा ने रुतुराज के साथ मिलकर दूसरे विकेट के लिए 110 रनों की ठोस साझेदारी बनाई। जिसकी बदौलत चेन्नई खेल में मजबूत स्थिति में नजर आ रही थी लेकिन 14वें ओवर में खेला का रुख पलट गया।

14वें ओवर में टॉम कर्रन ने तीसरी गेंद पर सेट बल्लेबाज उथप्पा को कैच आउट कराने के बाद ओवर की आखिरी गेंद पर शार्दुल ठाकुर को भी उसी अंदाज में आउट किया। दोनों ही कैच श्रेयस अय्यर ने पकड़े।

15वें ओवर में मैच फिर से दिल्ली के पक्ष में जाने लगा जब कगीसो रबाडा की चौथी गेंद पर दो रन लेने की कोशिश में अंबाती रायुडू रन आउट हुए। इस विकेट का श्रेय में अय्यर को गया, जिन्होंने शानदार थ्रो फेंका।

19वें ओवर में सेट बल्लेबाज गायकवाड़ भी 50 गेंदो पर 70 रनों की पारी खेलकर आवेश खान की फुलटॉस पर कैच आउट हुए। पांच विकेट गिरने के बाद मैदान पर आए कप्तान धोनी, जिन्होंने 6 गेंदो पर तीन चौकों और एक छक्के की मदद से 18 रनों की ताबड़तोड़ पारी खेलकर चेन्नई को दिल्ली के खिलाफ 4 विकेट से जीत दिलाई।